कायाकल्प योजना में भ्रष्टाचार का खुलासा होते ही प्रधानाध्यापक पर गिरी गाज

Action on Corruptionists
डीएम मार्कंडेय शाही

भ्रष्टाचारियों के खिलाफ डीएम मार्कंडेय शाही का चाबुक चलना जारी है। डीएम ने प्राइमरी स्कूल में ऑपरेशन कायाकल्प योजना के तहत कराए गए कार्यों में बड़े पैमाने पर वित्तीय गड़बड़ी करने, एमडीएम में गड़बड़ी करने तथा विभिन्न संसाधनों एवं सामग्रियों में हेराफेरी करने के आरोपी प्रधानाध्यापक को तत्काल निलंबित कर विभागीय कारवाई सहित अन्य कार्यवाहियां करने के आदेश दिए हैं।

मामला विकासखंड छपिया के प्राथमिक विद्यालय चटकनवां का है। जहां पर प्रधानाध्यापक वेद प्रकाश द्वारा ऑपरेशन कायाकल्प योजना के अंतर्गत निर्मित कराए गए चाइल्ड फ्रेंडली शौचालय व एनआरसी कक्षों का घटिया क्वालिटी का निर्माण, एमडीएम योजना में कन्वर्जन कॉस्ट एवं कंपोजिट ग्रांट की धनराशि का दुरुपयोग किए जाने।

और विद्यालय की विभिन्न व्यवस्थाओं में कुप्रबंधन तथा विद्यालय में उपलब्ध कराए गए विभिन्न संसाधनों एवं सामग्रियों में हेराफेरी किए जाने की शिकायत प्राप्त हुई। डीएम ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए एसडीएम मनकापुर की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय टीम गठित कर जांच कराई, जिसमें शिकायत सही पाई गई।

निरहुवा के साथ फिल्म में किया था काम और अब थाने पहुंचकर लगायी मदद की गुहार

जांच टीम की रिपोर्ट के आधार पर डीएम मार्कंडेय शाही ने प्रधानाध्यापक वेद प्रकाश को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर विभागीय कार्यवाही संस्थित करने, धनराशि की वसूली कराए जाने, आपराधिक न्यासभंग का मुकदमा दर्ज कराने तथा प्रधानाध्यापक के अन्य कार्यों का मूल्यांकन कर उसकी पृथक से वसूली कराकर आगामी 5 मार्च तक की गई कार्यवाही से अवगत कराने के आदेश एसडीएम व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिए हैं।

रिपोर्टर – अतुल यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here