त्रिस्तरीय पंचायत को लेकर गोंडा जिला निर्वाचन अधिकारी मार्कण्डेय शाही ने की बड़ी कार्यवाही

26 Sector Magistrate
26 Sector Magistrate

त्रिस्तरीय पंचायत को लेकर गोंडा जिला निर्वाचन अधिकारी मार्कण्डेय शाही ने की बड़ी कार्यवाही। प्रशिक्षण से अनुपस्थित 26 सेक्टर मजिस्ट्रेट के खिलाफ डीएम ने एफआईआर के आदेश दिए है।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर आयोजित सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेट के प्रशिक्षण में बिना किसी सूचना के अनुपस्थित होने पर ये कार्रवाई कि गयी है। अपर पुलिस अधीक्षक को जिलाधिकारी ने तत्काल एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दिए है।

डीएम के सख्त निर्देश के बावजूद भी दो पालियों में आयोजित प्रशिक्षण से 24 सेक्टर मजिस्ट्रेट बिना किसी सूचना के अनुपस्थित पाए गए।

26 सेक्टर मजिस्ट्रेट नाम

सहदेव सिंह प्रधानाचार्य सुभाष इंटर कॉलेज उमरी, डॉ कृष्ण कुमार सिंह प्रधानाचार्य जी बी एम इंटर कॉलेज नवाबगंज, इंद्रपाल सिंह प्रधानाचार्य डीएवी इंटर कॉलेज नवाबगंज,

धर्मवीर सिंह प्रधानाचार्य किसान इंटर कॉलेज भंभुआ, पुनीत कुमार सिंह अवर अभियंता सरयू नहर खंड 4, रामनरेश सिंह सींच पर्यवेक्षक उपनिदेशक सिंचाई एवं जल संसाधन, वीरेंद्र कुमार खंड शिक्षा अधिकारी तरबगंज,

गिरजा शंकर राव प्रधानाचार्य जनता इंटर कॉलेज छपिया मनकापुर, प्रेम शंकर मिश्रा सींच पर्यवेक्षक अरविंद कुमार असिस्टेंट प्रोफेसर, केके सिंह अवर अभियंता, देवेंद्र कुमार पांडे असिस्टेंट प्रोफेसर, शिव कुमार सिंह सींच पर्यवेक्षक,

प्रभाकर सिंह प्रधानाचार्य आरएनएस इंटर कॉलेज गोंडा, बजरंगबली श्रीवास्तव एसोसिएट प्रोफेसर एलबीएस गोंडा, धर्मवीर सिंह प्रधानाचार्य किसान इंटर कॉलेज भंभुआ, केके कबीर पशु चिकित्सा अधिकारी, अश्वनी प्रताप सिंह खंड शिक्षाधिकारी,

ओमप्रकाश मौर्य अवर अभियंता आईटीआई मनकापुर, दिनेश चंद्र शर्मा अवर अभियंता आईटीआई मनकापुर, प्रेम चंद अवर अभियंता आईटीआई मनकापुर, लल्लन भगत अवर अभियंता आईटीआई मनकापुर, श्याम लाल अवर अभियंता मनकापुर,

सत्येंद्र कुमार त्रिवेदी अभियंता तथा सीबी यादव अवर अभियंता मनकापुर के खिलाफ जिलाधिकारी ने तत्काल एफआईआर दर्ज कराने के आदेश अपर पुलिस अधीक्षक को दिए हैं।

Lucknow: प्रदर्शन कर रहे वकीलों ने प्रदर्शन की मर्यादा को तोड़ा, दुग्ध वाहन में की…

उन्होंने चेतावनी दी है कि निर्वाचन कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही कतई क्षम्य नही होगी। प्रशिक्षण एवं निर्वाचन ड्यूटी से अनुपस्थित रहने वाले अधिकारी कर्मचारी के खिलाफ सीधे एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here