जीआरपी सीतापुर की तत्परता से दो बच्चियाँ मिलीं अपने परिवार से

फिर एक बार पुलिस ने अपना कर्तव्य निभाते हुए दो बच्चियों को उनके परिवार से मिलाया। अपना घर छोड़ कर आयी बेचारी दो बच्चियों को उनके परिवार से मिलाकर पुलिस ने दो मासूम जानो को किसी अनहोनी का शिकार होने से बचा लिया। घर छोड़ कर आयी इन बच्चियों के साथ कुछ भी हो सकता था, खैर अब सब ठीक है। पुलिस की तत्परता से इन बच्चियों का भविष्य अब सुरक्षित है।

कौन थी ये दो बच्चियां

अपना घर छोड़ कर आयी ये दोनों बच्चियाँ बिहार में गोपालगंज की रहने वाली थी। यह दोनों बच्चियाँ सुनील कुमार की है एक बच्ची का नाम दीपाली और दूसरी का नाम ख़ुशी है। यह दोनों बच्चियां दिनांक 13/10/2019 को प्रभारी निरीक्षक छत्रपाल सिंह के नेतृत्व में उपनिरीक्षक शिव शंकर मिश्रा व प्लेटफार्म ड्यूटी मे तैनात कर्मचारियों को गुमसुम हालत में मिलीं थी।

डांटे जाने पर बच्ची ने छोड़ा घर, रायबरेली जीआरपी ने किया बरामद

परिवारजनो को सौपी गयी बच्चियाँ

पुलिस द्वारा गुमसुम हालत में मिलीं इन बच्चियों से पूछताछ के दौरान पता चला की यह अपना घर छोड़ कर आयी है।
दरअसल इन बच्चियों ने बताया कि यह अपनी मासी के घर लखनऊ जा रही है मगर शालीनता से पूछताछ के बाद मोबाइल पर बात की गयी तो पता चला की यह दोनों बच्चियां दिनांक 13/10/2019 को स्कूल से घर ही नहीं आयी।

बात करने के पश्चात इनके परिवारजनो ने अनुरोध किया कि इन बच्चियों को वे अपने पास रखे वे उन्हें लेने आ रहे है। परिजनों द्वारा बच्चियां वापस मिलने पर उनके चेहरे पर एक ख़ुशी दिखाई दी। इसके बाद उनके पहचान पत्र देखकर पुलिस ने इन्हे इनकी बच्चियों को सौप दिया। पुलिस के इस कर्तव्य पालन को देख कर परिजनों/यात्रीयो द्वारा जीआरपी सीतापुर की बहुत प्रशंसा की गयी।