सीटैट की परीक्षा में पेपर आउट कराने वाला गिरोह गिरफ्तार

google

एसटीएफ की कानपुर यूनिट ने सोमवार को सीटीईटी का पेपर आउट कराने वाले गिरोह को पकड़ लिया है।इस मामले में शामिल जालौन के डिग्री कॉलेज के प्रबंधक समेत दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आपको बता दे की इन दोनों आरोपियों ने रविवार को सीटीईटी का एग्जाम भी दिया था। इस मामले की आगे की कार्यवाही के लिए पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।

जानकरी के मुताबिक इस खेल का मास्टर माइंड सरगना प्रयागराज में बीटीसी संघ का नेता है। उसी ने वॉट्सऐप के जरिए प्रश्नपत्र भेजा था।सरगना धीरज दृवेदी को साथी चंद्रपाल के साथ यूपी एसटीएफ ने किया कानपुर के थाना चकेरी क्षेत्र से गिरफ्तार। पुलिस ने बताया की फरार प्रयागराज निवासी मुख्य सरगना आलोक सेंगर और प्रिन्स ने पेपर आउट कराया था।

बाद में दोनों गिरफ्तार आरोपियों को प्रश्न उत्तर व्हाट्सप और मैसेज के जरिये उपलब्ध कराए थे। जिसके एवज में 5 लाख की रकम तय हुई थी। इस पूरे मास्टर माइंड में ऑन लाइन 87 हजार की रकम की ट्रांसफर गई। पुलिस के मुताबिक येआरोपी जालौन के से जुड़े है। इनके पास से पुलिस को बड़ी संख्या में प्रवेश पत्र, कुएशन आंसर कापी,व अन्य दस्तावेज बरामद हुए है।हालाँकि की पुलिस अभी इस मामले की आगे की कार्यवाही में लगी है। और मामले में जो आरोपी अभी फरार उनकी तलाश जारी है।