लखीमपुर खीरी : धान क्रय केंद्रों पर भ्रष्ट केंद्र प्रभारी की लापरवाही, किसानों में छाया आक्रोश

farmers due to negligence
Lakhimpur Kheri

लखीमपुर खीरी :। जिले के तहसील पलिया में किसानों में उस समय आक्रोश छा गया जब 2 महीने बीत जाने के बावजूद भी नवीन मंडी स्थल पर बने धान क्रय केंद्रों पर खड़ी धान से भरी ट्रालियों की भ्रष्ट केंद्र प्रभारी की लापरवाही के चलते तोल नहीं की गई। जिसके चलते भारी संख्या में किसानों ने पलिया तहसील पहुंचकर प्रदर्शन करते हुए एक ज्ञापन पलिया उप जिलाधिकारी डॉक्टर अमरीश को सौंपा परेशानियों के समाधान की गुहार लगाई है।

किसानों का आरोप है की पलिया की नवीन मंडी स्थल पर बने धान क्रय केंद्रों पर 2 महीने बीत जाने के बावजूद भी अभी तक उनकी ध्यान से भरी ट्राली की तोल नहीं की गई है। धान के तौल कार्य में हो रही लापरवाही का खामियाजा क्षेत्र के भोले भाले किसानों को झेलना पड़ रहा है। मंडी में तौल के लिए करीब 40 धान से लदी ट्रॉलियां खड़ी हुई है, जो खराब होने की कगार पर पहुंच चुकी हैं। वहीं प्रशासन की लापरवाही के चलते मंडी समिति में कई दिनों से खड़ी किसानों के धान की फसल खराब होने की कगार पर पहुंचने लगी है। 12 से अधिक आक्रोशित किसानों ने शासन-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

वही किसानों का कहना है कि जब भी वह अपनी समस्या लेकर उप जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारियों के पास जाते हैं तो उन्हें सिवाय आश्वासन के और कुछ नहीं दिया जाता। किसानों ने SDM से कहा है कि पिछले एक माह से धान लदी ट्रैक्टर ट्राली खड़ी है। अधिक समय होने के चलते धान की फसल खराब होने की कगार पर पहुंच गई है। किसानों के धान की फसल तौल कार्य में बरती जा रही लापरवाही का खामियाजा क्षेत्र के आम किसानों को भुगतना पड़ रहा है। पिछले कई दिनों से धान फसल की तौल कराने को लेकर किसान मंडी समिति में पड़े हुए हैं। लेकिन कोई ना कोई समस्या बताकर उनकी धान फसल की तौल नहीं की जाती। मंडी समिति में कई दिनों से किसानों की धान फसल की तौल ना होने के चलते किसानों का धान खराब होने की कगार पर पहुंचने लगा है।

रिपोर्ट:-फारुख हुसैन…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here