पानकुंवर इंटरनेशनल स्कूल में पर्यावरण छात्र संसद ने कराया पौधारोपण

Environment Student Parliament planted saplings
Etawah

इटावा:। प्रकृति हमारी जरूरतों को पूरा करने के लिए है, इसमें लालच के लिए कोई स्थान नहीं है। यह बात समय रहते हम सभी को समझ लेनी चाहिए। यदि हम इसी तरह से प्रकृति की उपेक्षा करते रहे तो एक दिन हमारा अस्तित्व ही संकट में आ जाएगा। यह बात जिलाधिकारी जे बी सिंह ने कही।

मानिकपुर ग्वालियर हाईवे पर स्थित पानकुंवर इंटरनेशनल स्कूल में पौधारोपण करते हुए उन्होने कहा कि भविष्य में ऐसी चिन्ताजनक स्थिति उत्पन्न न हो इसलिए हमें अभी से पौधों का अधिक से अधिक रोपण करना चाहिए। डीएम ने कहा पेड़ पौधों की कमी से पशु पक्षियों की संख्या में लगातार कमी देखने को मिल रही है।

हाल ही में हुए शोध के मुताबिक दस प्रतिशत से अधिक पक्षियों की प्रजातियां विलुप्त होने की कगार पर हैं। इसलिए हमें अब संभलने की आवश्यकता है, पेड़ पौधों के साथ साथ जल संरक्षण पर अधिक से अधिक ध्यान दिया जाना चाहिए। उन्होंने मौजूद लोगों को अधिक से अधिक पौधे लगाने का संकल्प दिलवाया। विद्यालय के प्रबंधक व छात्र संसद के संयोजक डा. कैलाश यादव ने कहा कि पर्यावरण छात्र संसद के माध्यम से हम स्वयं पौधारोपण करने के साथ बच्चों को भी इसके लिए प्रेरित कर रहे हैं।

एडीआईओएस डा. मुकेश यादव ने कहा कि पौधारोपण के साथ ही इनकी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए ताकि ये बड़े होकर पेड़ बन सकें। इससे पूर्व जिलाधिकारी का पानकुंवर इंटरनेशनल स्कूल के प्रबंधक कैलाश चंद्र यादव ने फूल मालाओं से स्वागत किया। इस मौके पर पर्यावरण संसद के संयोजक संजय सक्सेना, विनोद यादव, विगनेश, अखिलेश भदौरिया, मनीष यादव, मुकेश राजपूत, खुशी टंडन, अपर्णा द्विवेदी आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट:-चंचल दुबे…

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here