रद्द हुई मिर्जापुर में इंजीनियरों की जानवर पकड़ने की ड्यूटी

DM SK Patel
google

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में कल एक फरमान जारी किया गया था जिसमे लोक निर्माण विभाग ने pwd के इंजीनियरों को मुख्यमंत्री योगी की गंगा यात्रा के दौरान जानवरों को रोकने का काम दिया गया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गंगा यात्रा में शामिल होने के लिए 29 जनवरी को मिर्जापुर पुलिस लाइन से बिरोही तक का सफर तय करेंगे। इस दौरान 9 अवर अभियंताओं को रस्सी लेकर पुलिस लाइन से लेकर बिरोही तक के हर रास्ते पर आवारा जानवरों को सड़क पर आने से रोकनर के लिए नौकरी पर लगाया गया था।

शिक्षक सजा रही दुल्हन तो इंजीनियर पकड़ेंगे हाथी घोड़े

इस पूरे मामले को लेकर आज डीएम एसके पटेल ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारी से फोन पर बात करके कनिष्ठ अभियंताओं को सीएम योगी आदित्यनाथ की यात्रा के दौरान आवारा पशुओं को बाहर निकलने के लिए लगाईं जाने वाली ड्यूटी के बारे में जानकारी लिया। एसके पटेल का कहना है कि “मैंने अधिकारी के साथ टेलीफोन पर बातचीत की, जिन्होंने इस बात से अवगत कराया कि इसे गलती से जारी किया गया था और रद्द कर दिया गया है”।

इससे पहले 27 जनवरी को भी 20 महिला शिक्षकों को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लिए दुल्हन सजाने की नौकरी मिली थी। सभी शिक्षिकाओं को जनपद सिद्धार्थनगर में मुख्यालय पर जिला कारागार के सामने 28 जनवरी को तेतरी बाजार के परिसर में सुबह 9:00 बजे दुल्हनों को सजाने के लिए बुलाया गया था। नौगढ़ सिद्धार्थनगर के खण्ड शिक्षा अधिकारी ध्रुव प्रसाद ने महिला शिक्षकों के लिए इस नौकरी का फरमान जारी किया था।

https://youtu.be/pnDrc8DIJzQ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here