एकनाथ सिंदे: ऑटो रिक्शा चालक से शिव सेना नेता बनने तक का सफर

eknath shinde
image source - google

कल महाराष्ट्र के 18 वे मुख्यमंत्री के रूप में उद्धव ठाकरे ने शपथ ली। इसके बाद कयास लगाए जा रहे थे की आदित्य ठाकरे शिव सेना विधायक दल के नेता चुने जायेंगे पर एकनाथ शिंदे ने विधायक दल के नेता के रूप में शपथ ली। एकनाथ शिंदे कौन है जिनका नाम आदित्य ठाकरे ने खुद विधायक दल के नेता के लिए प्रस्तावित किया और शिव सेना में उद्धव ठाकरे के बाद एकनाथ शिंदे को दूसरा बड़ा नेता माना जाता है। तो आईये जानते है की एकनाथ शिंदे कौन है?एकनाथ शिंदे का जन्म महाराष्ट्र में 9 फरवरी 1964 को हुआ था। इनके पिता का नाम संभाजी नाडु शिंदे था। एकनाथ शिंदे ने 11 वीं तक पढ़ाई मंगला हाई स्कूल ठाणे से की।

अपना और अपने परिवार का जीवन यापन करने के लिए एकनाथ ने ऑटो रिक्शा चलना शुरू कर दिया पर इनकी किस्मत में रिक्शा चलना नहीं महाराष्ट्र विधानसभा का सदस्य बनना लिखा था। वक़्त के साथ एकनाथ शिंदे की किस्मत भी बदल गयी और वो 2004 में महाराष्ट्र विधानसभा के लिए चुने गए। इसके बाद 2009 व 2014 में चुन कर महाराष्ट्र विधानसभा गए। 3 बार लगातार सफलता पाने के बाद पार्टी में एकनाथ शिंदे का कद ऊँचा हो गया।

उद्धव ठाकरे को महाराष्ट्र का सीएम बनने पर पीएम मोदी ने दी बधाई

इसके बाद एकनाथ ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और 2014 में महारष्ट्र राज्य सरकार में PWD के कैबिनेट मंत्री बने व आगे चलकर महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री सार्वजनिक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री नियुक्त हुए। कल 28 नवम्बर को शिव सेना के विधायक दल का नेता बनाया गया। एकनाथ शिंदे की पत्नी का नाम लता है और इनके बेटे का नाम श्रीकांत शिंदे है जो शिव सेना से कल्याण सीट के सांसद है।