भूलकर भी ना करें सोशल मीडिया पर ये गलती,जा सकते हैं जेल

image source-google

● व्हाट्सएप ,फेसबुक ,टि्वटर समेत सभी सोशल मीडिया का उपयोग करने वाले लोग हो जाये सतर्क
● आप भूलकर भी सोशल मिडिया पर ये गलती न करे नहीं तो आपको जेल जाना पड़ सकता है
● व्हाट्सएप ,फेसबुक ,टि्वटर समेत सभी सोशल मीडिया पर रखी जा रही है कड़ी नजर

अयोध्या जमीन विवाद में सुप्रीम कोर्ट से फैसला कभी भी आ सकता है। इसके मद्देनजर अयोध्या के जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने सोशल मीडिया मैसेज और पोस्टर पर रोक लगा दी है। इसी विषय में जानकारी देते हुए अयोध्या के क्षेत्राधिकारी ने बताया है की सोशल मीडिया पर कोई भी व्यक्ति किसी धर्म विशेष से संबंधित ऐसा कुछ भी पोस्ट न करे जिससे किसी की धार्मिक मान्यताओं और भावनाओं को ठेस पहुंचे। उन्होंने कहा की अयोध्या विवाद, राम मंदिर या बाबरी मस्जिद से जुड़ा कोई भी मैसेज न तो सोशल मीडिया पर शेयर किया जायेगा और न ही कोई पोस्टर लगाया जाएगा।सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने के लिए 28 दिसंबर तक यह रोक लगाई है।

जाना पड़ सकता है आपको जेल

पुलिस प्रशासन ने अयोध्या प्रकरण में आने वाले फैसले को लेकर एडवाइजरी जारी की उन्होंने इसे अपने फेसबुक अकाउंट पर भी शेयर किया है। लोगों से अपील की है कि वह सोशल मीडिया का प्रयोग समझदारी से करें। क्योकि आप की थोड़ी सी गलती की वजह से ऐसा न हो की आप को जेल जाना पड़े। अयोध्या के क्षेत्राधिकारी ने बताया की सभी कॉल की रिकॉर्डिंग होगी, जो की सुरक्षित की जाएगी। व्हाट्सएप ,फेसबुक ,टि्वटर समेत सभी सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखी जा रही है। आपकी डिवाइस को मंत्रालय के सिस्टम से जोड़ा जाएगा। इसलिए ऐसा कोई गलत मैसेज किसी को मत भेजिए और सभी को इस बारे में बताएं।

भूल कर सोशल मिडिया पर न करे ये गलती

बात दे की आप राजनीति या वर्तमान स्थिति पर, सरकार या प्रधानमंत्री के खिलाफ,कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट या वीडियो आप रिसीव या सेंड ना करें। क्योकि किसी राजनीतिक या धार्मिक मुद्दे पर आपत्तिजनक मैसेज लिखना या भेजना कानूनन अपराध है। ऐसा करने पर बिना वारंट के आपकी गिरफ्तारी हो सकती है। क्षेत्राधिकारी ने बताया की पुलिस एक नोटिफिकेशन निकालेगी और साइबर अपराध पर एक्शन लिया जाएगा। यह बहुत ही गंभीर प्रकरण है,व्हाट्सएप के सभी ग्रुप मेंबर और एडमिन इस विषय पर गहराई से सोचें और कोई भी गलत मैसेज मत भेजिए। सभी को सूचित करें तथा इस विषय पर ध्यान रखें। सभी ग्रुप ज्यादा सतर्क व सावधान रहें सभी को इससे अवगत भी कराएं।