हिन्दू-मुस्लिम एकता पर आधारित कार्यक्रम में हुई आपसी भाईचारे पर चर्चा

Hindu-Muslim unity
awazeuttarpradesh

देश की एकता और भाईचारे को बरकरार रखते हुए मलिहाबाद ने निवासियों हिन्दू मुस्लिम एकता पर आधारित एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन आज दिनांक 5 मार्च 2020 को रॉयल गार्डेन्स मैंरिज लान मलिहाबाद में किया गया था और इस कार्यक्रम में हिन्दू और मुस्लिम समाज के वरिष्ट धर्मगुरूओं ने हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम के दौरान देश की एकता और भाईचारे को बरकरार रखते हुए देश की हज़ारो सालों से चले आ रहे आपसी भाईचारे पर चर्चा की गयी।

लखनऊ में हिंसा करने वाले 57 लोगों की संपत्ति होगी कुर्क,चौराहों पर लगेंगे नाम, पता के साथ फोटो

महंत श्री श्री 108 ने भाईचारे पर दिया संदेश 

वहीं दूसरी तरफ महंत श्री श्री 108 जी ने लोगों सम्बोधित करते हुए कहा की हमारे दुश्मनों को इस बात का ज्ञान नही के वो क्या करने की कोशिश कर रहा हैं। इसके अलावा उन्होंने यह सन्देश दिया की वो लाख कोशिश कर ले पर हमारे भाईचारे और प्रेम को कभी नही खत्म कर सकते हम एक थे और हमेशा एक रहेंगे।

इसके अलावा मौलाना ओसामा सहाब ने देश की हज़ारो साला आपसी भाईचारे पर बातचीत करते हुए कहा की ”आज हमें देश विरोधी ताकतें धर्म के नाम पर लडाना चाहती हैं जो हम हरगिज नही होने देंगे क्यूंकि इस देश का ऐतिहास रहा हैं की यहां हर धर्म और मजहब के लोग शांति और भाईचारे के साथ रहते आए हैं और यही हमारी सभ्यता हैं।”

नई बस्ती श्री भंते जिज्ञासु जी ने इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए कहा की आप सब का यहां साथ होना ये उन अराजकता फैलाने वालो के मुँह पर तमाचा हैं। जो हमें हिन्दू-मुस्लिम के नाम पर बाँट कर अपना फायदा निकालने की कोशिशों में लगें हैं जो ये समझते हैं हमें धर्म के नाम पर आपस में बाट देंगे पर वो गलत हैं आए और खुद देखें उनके द्वारा इतनी नफरत फैलाने के बाद भी हम अलग नही हुए और एक हैं।

बड़ी तादात में दोनों समुदाय के लोगों ने लिया हिस्सा

कार्यक्रम ऑर्गनाइज़िंग कमिटी के महामंत्री श्री मसरूर हसन खां के मुताबिक इस कार्यक्रम में बड़ी तादात में दोनों समुदाय के लोगों ने हिस्सा लिया, जिसमे कानपुर से वरिष्ट मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना ओसामा कासमी सहाब सण्डीला से श्री श्री 108 महंत शिवानंद दास ख़ाकी जी नई बस्ती श्री भंते जिज्ञासु जी वा मौलाना यूसुफ हुसैनी सहाब मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here