ओवैसी,वारिस पठान सहित गाँधी परिवार के भड़काऊ भाषण, दिल्ली सरकार, केंद्र व पुलिस को नोटिस

delhi court
image source - google

दिल्ली में हुई हिंसा का जिम्मेदार कुछ नेताओं के द्वारा दिए गए भाषण को ठहराते हुए दिल्ली हाई कोर्ट में एक NGO ने याचिका दायर की थी। इस याचिका में सांसद असदुद्दीन ओवैसी,अकबरुद्दीन ओवैसी,वारिस पठान,सोनिया गाँधी,प्रियंका गाँधी और राहुल गाँधी,अमानतुल्ला खान, मनीष सिसोदिया सहित कई नेताओं के नाम है और इनके ऊपर FIR दर्ज करने की मांग की है। आरोप है की इन नेताओं द्वारा दिए गए भड़काऊ भाषण के बाद ही लोग सड़कों पर आये और हिंसा हुई। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने दिल्ली सरकार,केंद्र सरकार व दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर दिया है।

इसी मामले की एक और याचिका पर केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया गया है। इसमें फिल्म अभिनेत्री स्वरा भास्कर, आरजे साईमा,सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर,अमानतुल्ला खान के खिलाफ IPC व IT अधिनियम की धाराओं के तहत FIR दर्ज कर हिंसा की जाँच के लिए निर्देश दिया है।

Maria Sharapova की ये बोल्ड तस्वीरें,Hollywood एक्ट्रेस को भी दें रहीं टक्कर

प्रदर्शनों की फंडिंग कौन कर रहा

नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों की फंडिंग,देश विरोधी लोगों की जाँच व पहचान करने के लिए दायर की गयी एक और याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने केंद्र व दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किया है। इसके साथ ही एमसीएमसी,चुनाव आयोग की मीडिया प्रमाणन, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया,रिटर्निंग अधिकारी को जवाब दाखिल करने को कहा है। इस मामले की सुनवाई 2 महीने बाद होगी। बता दें दिल्ली में हुई हिंसा में 39 लोग अपनी जान गवा चुके है और कई लोग घायल है। जिनका इलाज हॉस्पिटल में चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here