राजधानी के सामने है दो बड़े संकट, क्या सरकार बन पाएगी संकटमोचन?

delhi air pollution and Coronavirus case
image source - google

देश की राजधानी दिल्ली इस समय दो बड़े संकटों का सामना कर रही है। एक तो कोरोनावायरस और ऊपर से प्रदूषण का बढ़ता स्तर। इन दोनों बड़े संकटों से दिल्ली बाहर कैसे निकलेगी इसके लिए जल्द ही कुछ उपाय सरकार को निकालना होगा।

 delhi air pollution and Coronavirus case

दिल्ली में ज्यादातर जगहों पर AQI लेवल 300‌ के ऊपर है। जो बताता है कि दिल्ली एक गैस चेंबर की तरह बनती जा रही है। वजीरपुर 326, विवेक विहार 312, जहांगीरपुरी 368, चांदनी चौक 314, अशोक विहार 321, आनंद विहार 313 AQI पर आंकड़ा दर्ज किया गया है।

वहीं कोरोना से भी दिल्ली का बुरा हाल है। Mygov.in/covid-19 के अनुसार दिल्ली में कोरोना के 529863 मरीज है और पिछले 24 घंटे में 6746 मरीज मिले हैं। सक्रिय मामलों में 471 की वृद्धि के बाद आंकड़ा 40212 हो गया है और 121 लोगों की मृत्यु हुई है। वहीं अब तक 481260 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here