गरीब परिवारों और मजदूरों के लिए मसीहा बने विवेक सिंह

Deeksha Foundation Trust

कोरोन महामारी के चलते इस समय पूरे देश में लॉक डाउन है और इससे सबसे ज्यादा प्रभावित गरीब, मजदूर लोग हुए हैं। केंद्र सरकार और राज्य सरकारें अपने-अपने स्तर पर कार्य कर हर संभव प्रयास कर रही हैं। सभी जरूरतमंदों तक सहायता पहुंचाने की पर कई ऐसे गरीब, मजदूर लोग भी हैं। जिन तक सरकार द्वारा दी जा रही मदद नहीं पहुंच पा रही। ऐसे लोगों की मदद करने के लिए दीक्षा फाउंडेशन ट्रस्ट दिन-रात काम कर रही है।

दीक्षा फाउंडेशन ट्रस्ट ने आधा दर्जन से अधिक गांव के 500 गरीब परिवारों को खाद्य सामग्री के पैकेट बांटे हैं। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ध्यान रखा गया और लोगों को भी लॉक डाउन का पालन करने का सुझाव दिया। इसके साथ ही दीक्षा फाउंडेशन ट्रस्ट के कार्यकर्ताओं ने अपने मोबाइल नंबर भी गरीब परिवारों को उपलब्ध कराएं हैं। जिससे वे आवश्यकता पड़ने पर कभी भी कॉल करके अपनी आवश्यकता का सामान मंगा सकते। फाउंडेशन उन्हें तत्काल राहत सामग्री उपलब्ध कराएगी।

सीएम योगी अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगे, बताइए ये वजह

ग्रामीण गरीबों से मुखातिब विवेक सिंह ने बताया कि गरीबों को राशन वितरण करने को राजनीति के रूप में ना समझा जाए। यह केवल गरीबों की सेवा है और भूखे लोगों को भोजन कराना एक पुण्य का काम होता है। मानव सेवा ही ईश्वर की सच्ची उपासना है। इसलिए हमारी फाउंडेशन इस पुण्य के काम को मानवीय कर्तव्य समझकर कर रही है।

आगे विवेक सिंह ने बताया कि “दीक्षा फाउंडेशन ट्रस्ट के कार्यकर्ता देवगांव, सुरजीपुर, कस्बा खीरों, कालूपुर गुमानखेड़ा माझिगवा आदि कई गांवों में 500 से अधिक गरीब परिवारों को राशन वितरण किया है।” इस मौके पर फाउंडेशन के वैभव सिंह, विवेक सिंह, अभिषेक सिंह, अमित सिंह, नवनीत शुक्ला, शुभम सिंह, आदर्श पटेल, राजेश कुमार, विजय पटेल, अमन पटेल, वीरेंद्र प्रताप सिंह और गुड्डू शर्मा सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here