लखीमपुर खीरी : 3 महीने से इस घातक तेंदुए ने गांव वालों का किया था जीना मुश्किल, फिर

leopard made it difficult for the villagers to live
Lakhimpur Kheri

लखीमपुर खीरी :। ईसानगर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पंचायत बेलागढ़ी के गांव में तीन महीने से घातक तेंदुए ने गांव वालों का जीना मुश्किल कर दिया था यहां तक किसान अपने खेतो की देखरेख के लिए भी नहीं जा सकते थे और ना ही अपना काम कर सकते थे शाम होते ही अपने अपने घरों में ग्रामीण दुबक कर बैठ जाते थे।

सूचना के बाद से वन विभाग के उच्च अधिकारियों द्वारा आदमखोर हिंसक जानवर को पकड़ने के लिए ऑपरेशन चल रहा था घातक मादा तेंदुए को पकड़ने में वन विभाग को बड़ी कामयाबी मिली है वहीं ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।

बताते चले कि दुधवा टाइगर रिजर्व के धौरहरा वन रेंज की गनापुर बीट के नदी पार इलाके में करीब तीन महीने से छाए तेदुओं के आतंक को लेकर सोमवार की रात दूसरे तेंदुए को पकड़ने के में वन विभाग को कामयाबी मिल गई। बेलागढ़ी गाँव में लगे पिजरें में बीती रात दूसरी मादा तेंदुआ फंस गया।

नाइट विजन कैमरे से दूर बैठकर निगरानी कर रही वन विभाग की टीम सहायक वन संरक्षक प्रभारी क्षेत्रीय वन अधिकारी के साथ तुरंत मौके पर पहुँच गई वहीं तेंदुए को दुधवा जंगल मे छोड़ दिया गया हैं फिर भी मादा तेंदुए के पकड़े जाने के बाद डेंजर जोन के गांवों के लोगों में भय बना हुआ हैं।

रिपोर्ट:-फारुख हुसैन…

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here