राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर पीएम मोदी ने देशभर के सरपंचों के साथ किया संवाद

PM Modi interacts with sarpanches
image source - google

24 अप्रैल आज राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देशभर के सरपंचों से बात की। इसके साथ ही ‘ई-ग्राम स्वराज’ पोर्टल और मोबाइल एप लांच करने के बाद भी कही है और इसके साथ “स्वामित्व योजना” भी लांच होगी। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में विकास के प्रयासों को बहुत गति मिलेगी।

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस ने हमें सबसे बड़ा संदेश और सबसे बड़ा सबक दिया है और सिखाया है। एक प्रकार से उस रास्ते पर चलने के लिए हमें दिशा निर्देश दिया है और वह यह है कि अब हमें आत्मनिर्भर बनना ही पड़ेगा। बिना आत्मनिर्भर बने ऐसे संकटों को झेल पाना भी मुश्किल हो जाएगा। गांव अपने स्तर पर अपनी मूलभूत आवश्यकताओं के लिए आत्मनिर्भर बने। जिला अपने स्तर पर राज्य अपने स्तर पर और इसी तरह हमारा ये पूरा हिंदुस्तान आत्मनिर्भर बने। जिससे अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए हमें कभी भी बाहर (अन्य देशों) का मुंह नहीं देखना पड़े।

किसान अन्नदाता

पीएम मोदी ने किसानों को लेकर कहा की “किसान हमारा अन्नदाता है और किसान का स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है। किसान निस्वार्थ भाव से देशवासियों के पेट पालता है। लॉक डाउन के समय भी किसान और पशुपालक साथियों ने अनाज, दूध, दही, फल, सब्जी आदि की कमी नहीं होने दी।

पीएम मोदी लॉक डाउन के दूसरे चरण में भी सभी मुख्यमंत्रियों से करेंगे बात

देश में मोबाइल बनाने का जो अभियान सरकार ने चलाया है उसी का यह परिणाम है कि आज हर गांव में कम दाम में स्मार्टफोन पहुंच सके हैं। यह आज जो हम इतने बड़े स्तर पर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग कर रहे हैं, यह सब इसी के कारण हो पाया है। इंफ्रास्ट्रक्चर को गांव में मजबूत करने के लिए सरकार ने दो आवश्यक प्रोजेक्ट शुरू किए हैं। ई-ग्राम स्वराज और स्वामित्व योजना।” इसके साथ ही पीएम मोदी गांवों में कोविड-19 से निपटने के लिए किए जा रहे कार्यों के बारे में भी जानकारी ले रहे हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here