सोनिया के खिलाफ खट्टर की टिप्पणी पर भड़के कांग्रेसी

manohar lal khattar

सोनिया गांधी पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा की गई टिप्पणी का कांग्रेस ने कड़ा विरोध किया है। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का कहना है की सोनिया पर इस तरह की अपमान जनक टिप्पणी करके उन्होंने सिर्फ सोनिया का ही नहीं पूरे देश की महिलाओ का अपमान किया है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने टिप्पणी को अपमानजनक बताते हुए कहा कि यह भाजपा नेताओं का महिलाओं के प्रति अपमानजनक रवैये का परिचय दिया है।

मनसिक संतुलन खो बैठे है खट्टर

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भाजपा के लोग सत्ता में आते ही अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं। इसीलिए विपक्षी नेताओं के बारे में ऐसी अनर्गल एवं अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने सम्मानित व वरिष्ठ नेताओं का आदर करती है। लेकिन भजपा में वरिष्ठता के लिए कोई स्थान नहीं है।उन्होंने ने कहा कि ऐसा बयान हरियाणा के मुख्यमंत्री की विक्षिप्त मानसिकता का परिचायक है। तथा भाजपा नेतृत्व को उनके खिलाफ कार्यवाही करनी चाहिए।

कांग्रेस MLC दीपक सिंह ने किया सरकार पर पलटवार

किसानो पर हो रहे अत्याचारों पर पर्दा डालने का प्रयास

उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं द्वारा इस प्रकार की अनर्गल बयानबाजी कर जनता के सरोकार वाले मुद्दों, देश में चल रही आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, मंहगाई, भ्रष्टाचार, महिला, दलित, किसानों पर हो रहे अत्याचार की घटनाओ पर पर्दा डालने का प्रयासकर रहे है। लेकिन हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सोनिया गांधी पर आपित्तजनक टिप्पणी करके अपने मानसिक संतुलन खोने की खुद ही पुष्टि की है।इसीलिए विपक्षी नेताओं के बारे में ऐसी अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे हैं।

जलाया गया खट्टर का पुतला

कांग्रेस कार्यकर्ता सोमवार को महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा के नेतृत्व में एस्लेहॉल चौक पर मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ नारेबाजी की और खट्टर का पुतला दहन किया। महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ खट्टर की टिप्पणी आपत्तिजनक ही नहीं भाजपा नेताओं का महिलाओं के प्रति सोच की परिचायक है। इस मौके पर पूर्व विधायक राजकुमार, प्रदेश प्रवक्ता डॉ. आरपी रतूड़ी, प्रदेश सचिव राजेश पांडे, भरत शर्मा, दीप बोहरा, नवीन पयाल, डॉ. प्रतिमा सिंह, देवेंद्र सिंह, अजरुन सोनकर, डॉ. विजेंद्र पाल, निखिल कुमार, रीता रानी, कमलेश रमन आदि मौजूद रहे।

भारतीय महिलाओ का किया अपमान

प्रीतम सिंह ने कहा की जहाँ एक तरफ भजपा सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं का नारा देकर महिला सशक्तीकरण की बात करती है। वहीं खट्टर ने अनर्गल बयानबाजी कर न केवल सोनिया गांधी का अपमान किया है बल्कि समस्त भारतीय नारियों का भी अपमान किया है जिसके लिए भाजपा नेतृत्व को माफी मांगनी चाहिए।