राज्यसभा में कांग्रेस सांसदों ने दिया सस्पेंशन ऑफ बिजनेस और शून्यकाल नोटिस

debate on farm bill
image source - google

कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आज़ाद और आनंद शर्मा ने राज्यसभा में सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया। बता दें ये नोटिस किसानों के चल रहे आंदोलन पर चर्चा को लेकर दिया गया है। वहीं कांग्रेस सांसद राजीव सातव ने तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर राज्यसभा में शून्यकाल नोटिस दिया।

इसके अलावा बहुजन समाज पार्टी, सीपीआई, अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस, द्रविड़ मुनेत्र कड़गम, सीपीआई (M) ने राज्यसभा में चल रहे किसान आंदोलन पर सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया है।

गिरती हुई साख उठाने की कोशिश

विपक्षी पार्टियों द्वारा सदन में कृषि क़ानूनों को वापस करने की मांग पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि इन सब लोगों ने मिलकर कृषि बिलों को पास किया था। कांग्रेस का तो चेहरा ही नहीं है कि वे कुछ बोले। अब ये किसानों के कंधों पर अपनी गिरती हुई साख को उठाने की कोशिश कर रहे हैं।

ये जरुरी खबरें भी पढ़ें 

4 फरवरी को हो रहे चौरीचौरा कांड के 100 वर्ष, गोरखपुर जिले में होगा…

राम मंदिर चंदे पर कांग्रेस MLA का विवादित बयान, संतों और बीजेपी ने की निंदा

6 फरवरी के लिए किसानों का बड़ा ऐलान, पुलिस की खास तैयारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here