कांग्रेस नेता अमीरुल हसन जाफरी ने वसीम रिजवी को लेकर दिया विवादित बयान

Amirul Hasan Jafri controversial statement
image source - google

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कल एक कार्यक्रम के दौरान मुरादाबाद बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष और कांग्रेस नेता अमीरुल हसन जाफरी ने उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री वसीम रिजवी का सर काट कर लाने वाले को 11 लाख रुपए देने का ऐलान किया है।

अमीरुल हसन जाफरी ने पहले यह ऐलान मंच से किया और उसके बाद जब मीडियाकर्मियों ने दोबारा उनसे पूछा तो उन्होंने तब भी अपनी इसी बात को दोहराया कि वह वसीम रिजवी के सर काट कर लाने वाले को 11 लाख रुपये का इनाम देंगे, चाहे इसके लिए उन्हें खुद को बेचना पड़े या फ़िर भीख मांगना पड़े।

लेकिन वह वसीम रिजवी का सर काट कर लाने वाले को 11 लाख रुपये का इनाम देंगे उन्होंने कहा कि वसीम रिजवी ने सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिमों समुदाय की आसमानी किताब कुरान की 28 आयतों को संशोधन कर हटाने के लिए याचिका दायर की है, जिसके लिए मुसलमानों में काफी गुस्सा है।

किसी राजनीतिक दल का नेता अगर आपत्तिजनक बयान देता है तो यह माना जाता है कि वह अपनी राजनीति को चमकाने के लिए इस तरह का बयान दे रहा है, लेकिन अमीरुल हसन जाफरी सीनियर अधिवक्ता हैं, बार एसोसिएशन मुरादाबाद के अध्यक्ष भी रह चुके हैं कानून के पूरे जानकार हैं उसके बाद इस तरह सार्वजनिक मंच से सर काटकर लाने वाले को 11 लाख रुपये देने का ऐलान करना चर्चा में बना हुआ है।

कमला नेहरू ट्रस्ट जमीन हड़पने के मामले पर कई लोगों पर दर्ज हुआ मामला

दरअसल शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी के द्वारा कुरान की कुछ आयतों को हटाने की याचिका और विवादित बयान देने को लेकर कांग्रेस नेता अमीरुल हसन जाफरी ने उनका सर काटने वाले को 11 लाख रुपये देने वाला विवादित बयान दे दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here