UP: माध्यमिक शिक्षा विभाग के कार्यक्रम में नई शिक्षा नीति व शिक्षकों की नियुक्ति पर सीएम ने कही ये बातें

cm yogi

Uttar Pradesh के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज को लोकभवन में नवनियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति पत्र (appointment letter) का वितरण किया। माध्यमिक शिक्षा विभाग के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के साथ डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और सतीश द्विवेदी मौजूद रहे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि कई वर्षों के बाद उत्तर प्रदेश के राजकीय इंटर कॉलेजों में शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया पारदर्शी तरीके से हो रही है। इस के लिए उच्च, माध्यमिक और तकनीकी विभागों में एक लाख से ऊपर भर्तियां की गई।

नई शिक्षा नीति पर सीएम

सीएम योगी ने कहा कि सभी नवचयनित शिक्षक के लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा कॉलेज अलॉट हो गए हैं। आपने जब पठन-पाठन किया होगा तो आप 1986 की शिक्षा नीति को ग्रहण किया होगा, लेकिन 2022 से आप नई शिक्षा नीति (New Education Policy) को ग्रहण करेंगे। शिक्षा केवल किताबी ज्ञान न हो, बल्कि एक इनोवेशन होग।

नई शिक्षा नीति में इसी को ध्यान दिया गया है, इसलिए आपको अभी से तैयार करना होगा। 2017 से पहले हर चयन प्रक्रिया में बेईमानी का घुन लग जाता था और युवा हताश हो जाता था। हमने अबतक साढ़े 4 लाख विभिन्न विभागों में भर्तियां दी हैं। ये सभी भर्तियां पिछली सरकारों में रुकी हुई थी।

यूपी बढ़ रहा आगे

CM ने कहा कि बेईमानी और भृष्टाचार में व्यवस्था आकंठ डूबी हुई थी। आज जब हमने इसे काबू किया तो इसके प्रभाव दिखाई पड़ रहे हैं। डाटा निकाल कर देखिए इतनी सरकारी नौकरियां कभी नही दी गई हैं। कानून व्यवस्था के बारे में देश दुनिया की भावनाएं बदली हैं। आज प्रदेश निवेश हो रहा है। कोई भी माफिया अब किसी को परेशान नही कर सकता। प्रदेश इज ऑफ डूइंग बिजनेस में 16,17वें स्थान से दूसरे स्थान पर आ गया है। देश की अर्थव्यवस्था में हमारी सरकार के परिश्रम का परिणाम है कि उत्तर प्रदेश देश की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बना है। इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट का कार्य एक तरफ विकास कर रहा है और निवेश भी कर रहा है।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − seven =