मुख्यमंत्री योगी ने किया इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर 112 का शुभारंभ

विभिन्न देशों तथा भारत के अनेक राज्यों में इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर के लिए जाना जाने वाला 112 नंबर आज से उत्तर प्रदेश में भी लागू हो गया है। यूपी में आज से आपातकालीन स्तिथि में 100 नंबर की जगह अब 112 नंबर डायल करना होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर 112 का शुभारंभ कर दिया।

उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से पुलिस, अग्निशमन, एंबुलेंस और जीवन रक्षा की सभी सुविधाओं को एक प्लेटफार्म पर लाने की एक अच्छी पहल की गई है। यूपी-100 के एडीजी असीम अरुण के अनुसार, जनता 26 अक्टूबर से 112 नंबर के जरिए पुलिस सेवा के साथ साथ एंबुलेंस, फायर सर्विस और एसडीआरएफ जैसी जीवन रक्षक एजेंसियों की सहायता ले सकेगी। डायल 112 सर्विस के माध्यम से पीड़ित और पीआरवी दोनों की एकदम सटीक लोकेशन मिलेगी।

डायल 112 के आयोजन में सीएम ने कही ये बातें-

  • पूरे देश मे 112 को एकीकृत रूप से हेल्प सेवा के रूप में स्थापित करना है।
  • फायर, एम्बुलेन्स, आपात स्थिति, आदि विभिन्न सहयोग हेतु अलग अलग फ़ोन नंबर याद करने की जरूरत नही होगी।
  • विभिन्न तकनीको के माध्यम से रेस्पोंस टाइम में कमी लाई जाएगी।
  • सवेरा पहल के माध्यम से बुजुर्गों को सहायता उपलब्ध कराएगा।
  • इसी प्रकार महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्था की जानी चाहिए।
  • 112 के शुभारंभ व सवेरा के पहल के लिए पुलिस को हृदय से बधाई देता हूँ।
  • जिनका कोई सहारा नहीं उनमे नया विश्वास पैदा होगा।
  • महिलाओं की सुरक्षा के लिए घर की हिंसा पर हेल्पलाइन भी इससे जुड़े।