CAA को लेकर सूची तैयार करने का दिया गया निर्देश

CAA Protest
google
  • हिंदी और उर्दू भाषाओं में पर्चे वितरित करके लोगों से पंजीकरण करने का कर रहे आग्रह
  • उत्तर प्रदेश के 21 ज़िलों में 32 हज़ार लोगों के नाम की हुई पहचान

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर सोमवार को एक बयान दिया है। उन्होंने बताया कि सीएए के लिए गजट अधिसूचना जारी कर दी गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ज़िलों के सभी डीएम को जल्द सूची तैयार करने के लिए निर्देश दिए हैं। हम हिंदी और उर्दू भाषाओं में पर्चे वितरित कर रहे हैं, लोगों से पंजीकरण करने का आग्रह कर रहे हैं। हाल ही में एक सर्वेक्षण के आधार पर 21 ज़िलों में 32 हज़ार लोगों के नाम सामने आए हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार ने पकिस्तान, अफगानिस्तान तथा बांग्लादेश से आये शरणार्थियों को नागरिकता देने कि तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस कानून के तहत मुसलमानों को छोड़कर 6 धर्मों के लोगों को भारतीय नागरिकता दी जाएगी। सीएए में केवल इन तीन देशों से आये हुए हिन्दुओं, सिखों, ईसाईयों, पारसियों, बौद्ध तथा जैन धर्म के लोगों को ही नागरिकता मिलेगी जिनमे हिन्दू और सिख बड़ी संख्या में शामिल हैं।

CAA के तहत नागरिकता देने की कार्यवाई शुरू, UP बना पहला राज्य

केंद्र सरकार ने राजपत्र जारी करते हुए 10 जनवरी को शुक्रवार के दिन देशभर में सीएए को लागू कर दिया है जिसे लेकर कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन देखने को मिला। लोकसभा तथा राज्यसभा में इस क़ानून के पास होने के बाद 12 दिसंबर को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इसे मंज़ूरी दे दी थी। राजपत्र दाखिल होने के बाद ही किसी भी कानून की आधिकारिक घोषणा मानी जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here