सीएम योगी ने अधिकारियों के साथ की बैठक, प्रवासियों को लेकर दिए विशेष निर्देश

cm yogi meeting migrants labor
image source - google

आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों के साथ अपने सरकारी आवास पर बैठक की। जिसमें विशेष निर्देश दिए गए हैं। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में 380 ट्रेनें अब तक आ चुकी हैं। जिनमें आगरास लखनऊ में 34, गोरखपुर में 57, बलिया में 14, बस्ती 12, वाराणसी 18 ट्रेन आई है। आने वाले समय में इनकी संख्या बढ़ाकर 626 कर दी जाएगी जिससे लाखों प्रवासी अपने गंतव्य तक जल्दी पहुंच सकेंगे।

अब तक विभिन्न राज्यों से 650000 लोगों को वापस लाया जा चुका है और बस से 70 हजार से ज्यादा लोग आ चुके हैं। प्रदेश में प्रतिदिन 5000 से 7000 लोग प्रतिदिन आ रहे हैं। वहीं ट्रेनों से अब तक 470000 लोग वापस आए हैं। जबकि डेढ़ लाख लोग अपने निजी वाहनों से पहुंचे हैं।

सभी प्रवासियों का डेटाबेस तैयार किया जा रहा है और भोजन की व्यवस्था करके उन्हें होम क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है। अभी तक कुल 1350000 लोग प्रदेश मेंं आ चुके है। गुजरात से आज 201 ट्रेन, दिल्ली से चार ट्रेन आई है। इसके अलावा रेलवे स्टेशन से 11064 बसे यूपीएसआरटीसी ने लगा दी हैं। सभी को सम्मान के साथ उनके घर तक पहुंचायाा जा रह है।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशों के अनुसार एल वन के अस्पतालों में भी वेंटीलेटर्स की व्यवस्था की जाएगी। एंबुलेंस चालकों को सभी सुविधाएं दी जाएंगी। निजी चिकित्सालयों को पीपीई किट हर हाल में मुहैया कराने के भी निर्देश दिए गए हैं। सीएम ने ओपीडी चालू करने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी एमरजैंसी सुविधाओं के लिए किसी व्यक्ति को भटकना ना पड़े।

उद्योगों के लिए किसी भी जनपद से दूसरे जनपद पर श्रमिकों व टेक्नीशियनस कुशल स्टाफ को लाने ले जाने के लिए जनपद स्तरीय डीएम स्तर पर पास जारी किए जाएंगे। गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रदेश में कुछ कार्यों को शुरू किया गया है। इसके साथ ही श्रम कानून में संशोधन भी किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here