सिगरेट की लत ठंड और प्रदूषण का कॉकटेल बढ़ा रहा कोरोना संक्रमण का खतरा

risk of corona infection
Kanpur

कानपुर :। सिगरेट का धुआं ठंड और प्रदूषण का कॉकटेल करते हुए कोरोना वायरस को और संक्रमित कर रहा है, यह कहना है कानपुर के समाजसेवी ज्योति बाबा का जिन्होंने ने विरोध करते हुए जान जागरूकता के लिए प्रदर्शन किया।

ज्योति बाबा के मुताबिक एक शोध के अनुसार प्रदूषण व सिगरेट का धुआं ठंड के साथ घालमेल कर शरीर में मौजूद इंटरफेरॉन नामक सेल काम करना बंद कर देता है, जो कोरोना संक्रमण के साथ अन्य कई मृत्यु कारक संक्रमण को जन्म देता है जबकि यह सेल हमारे फेफड़ों को किसी भी संक्रमण से बचाने के लिए एक दीवार की तरह काम करते हैं।

प्रदूषण जनित जगह पर धूम्रपान करने के साथ ही मधुमेह,अस्थमा या हृदय रोग जैसी किसी भी बीमारी का सामना कर रहे व्यक्ति का इम्यून सिस्टम को और कमजोर बना देती है, इसीलिए कोरोना वायरस का अटैक का खतरा बहुत ज्यादा रहता है, जिसके चलते सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में ‘कोरोना मिटाओ पर्यावरण बचाओ नशा हटाओ बेटी बचाओ प्रदूषण मिटाओ’ अभियान के तहत शहीद स्थल नानाराव पार्क में आयोजित ग्रीन मानव श्रृंखला के समापन पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरु ज्योति बाबा ने व साथ ही डब्ल्यूएचओ ने भी चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि धूम्रपान सिगरेट या हुक्का बार कोरोना वायरस के संक्रमण को प्रदूषण मिलने पर जीवन के लिए और खतरनाक बना देता है।

बाबा ने जोर देते हुए यह भी बताया कि, ”सबसे दुखद है कि तंबाकू और सिगरेट के चलते भारत देश में हर साल 2000000 लोगों की मौत हो जाती है इसीलिए हम सबको मिलकर अपने प्रकृति वातावरण की सुरक्षा सामूहिक रूप से करनी होगी।”

रिपोर्ट:-दिवाकर श्रीवास्तवा…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here