भारत के खिलाफ चीन की साजिश, यूएस ने दिया भारत का साथ

china-in-olympic
source - google

इस बार ओलंपिक्स 2022 चीन में होना तय हुआ है इसकी शुरुआत आज होने वाली है, ऐसे में जब चीन ने ओलंपिक्स की मशाल गलवान घाटी में भारतीय सेना पर हमला करने वाले सिपाही के हाथों में दी तो लोगों का गुस्सा फूट पाड़ा। भारतियों के भावनाओं को ठेस पहुंचने का ये काम चीन की सरकार ने बखूबी किया है लेकिन इसका खामयाजा चीन को उठाना पड़ सकता है।

china-olympics
source – twitter

चीन के ऐसा करने के लिए भारत के साथ ही यूएस से भी खरी खोटी सुनने को मिला। यूएस सीनेटर जिम रिस्क ने ट्वीट कर लिखा, ‘शर्मनाक है, #Olympics2022 के लिए एक मशालची को चुना, जो सैन्य कमान का हिस्सा है जिसने 2020 में #India पर हमला किया और #Uyghurs के खिलाफ #नरसंहार लागू कर रहा है। अमेरिका विरोध करेगा। #उइघुर स्वतंत्रता और भारत की संप्रभुता का समर्थन करने के लिए।’ ​

चीन की इस कृत्य से अचंभित और रोषयुक्त भारतीयों ने चीन में ओलंपिक्स 2022 को बायकाट करने की मांग की है। दिल्ली में तिब्बती वर्ग के लोगों ने ओलंपिक्स 2022 को बायकाट के लिए धरना भी दिया।

सपा ने सीएम योगी के खिलाफ चुनाव निर्वाचन आयोग को लिखा पत्र

बता दें भारतीय दूत ने ओलंपिक के उद्घाटन और समापन समारोह में शामिल न होने का फैसला लिया है इसके अलावा दूरदर्शन ओलंपिक के उद्घाटन और समापन समारोहों का सीधा प्रसारण नहीं करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here