बिजली कर्मियों की हड़ताल पर मुख्यमंत्री के बदले तेवर

google

उत्तर प्रदेश में यूपीपीसीएल के कर्मचारियों की दो दिवसीय हड़ताल का एलान करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के तेवर सख्त हो गए हैं। बिजली कर्मचारियों के कार्य बहिष्कार पर मुख्यमंत्री ने आला अधिकारियों से बात किया है। उन्होंने अधिकारियों से सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि आम लोगों को कोई परेशानी न हो और न ही सरकारी सम्पत्ति का नुकसान होना चाहिए।

नोटबंदी के तीन साल पूरे होने पर सरकार पर विपक्ष के तीखे तेवर

उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन लिमिटेड (UPPCL) के 45 हजार कर्मचारियों ने 26 अरब के पीएफ घोटाले को लेकर दो दिनों की हड़ताल का एलान कर दिया था। यूनियन मांग कर रहा है कि राज्य सरकार इस घोटाले में डूबे हुए 26 अरब रूपए की गारंटी दे। लेकिन इन सब के बावजूद सरकार ने अभी तक इन बिजली कर्मचारियों को कोई भी लिखित आश्वासन नहीं दिया है। यूपीपीसीएल के 45 हजार कर्मचारियों का पीएफ दीवान हाउसिंग फाइनेंस कार्पोरेशन लिमिटेड (DHFL) नाम की एक निजी कंपनी में जमा किया गया था।