CM योगी: प्रदूषण की समस्या का हल भारत निकाल सकता है

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नेशनल क्लींन एयर प्रोग्राम में पहुचें हुए थे। जहाँ उन्होंने प्रदूषण पर चर्चा करते हुए कहा की वायु प्रदूषण एक वैश्विक समस्या है और प्रदूषण की समस्या का हल सिर्फ भारत से ही निकल सकता है। साथ ही सीएम ने कहा की प्रदूषण को कम करने के लिए लोगों को जागरूक करने की आवशकता है। जागरूकता के आभाव होने की वजह से किसान खेतों का अपशिष्ट जला देते है जिससे खेत की उर्वरक शक्ति कम हो रही है। साथ ही हमारा पर्यावरण भी दूषित हो रहा है।

प्रकृति से तालमेल बनाये रखना

सीएम योगी ने कार्यक्रम में कहा की हमारे यहाँ के ग्रन्थ प्रकृति से तालमेल बनाये रखने की प्रेरणा देते है। हमें पर्यावरण को बचाने के लिए पेड़ो की कटाई को रोकना होगा। यदि किसी प्रोजेक्ट के लिए पेड़ों को काटा जाता है तो उसके साथ पौधा लगाने और संरक्षण की योजना को उसके साथ जोड़ना होगा। इसका ठोस रणनीति के तहत समाधान निकाला जा सकता है। साथ ही वन विभाग को सार्वजनिक स्थलों पर लगे पेड़ों को काटने की अनुमति नहीं देनी चाहिए।

ग्रीन वाल ऑफ इंडिया बनाएगी मोदी सरकार

एलपीजी कनेक्शन से कम हुआ प्रदूषण

मुख्यमंत्री योगी ने पीएम की तारीफ करते हुए कहा की प्रधानमंत्री जी ने 8 करोड़ लोगों को निशुल्क LPG कनेक्शन दिए है जिसने प्रदूषण को बड़े स्तर पर रोका है। पीएम ने एक बड़ा कदम उठाया है जिससे सिंगल यूज़ प्लास्टिक को खत्म करने का काम शुरू हो गया है। आगे सीएम योगी ने कहा की प्रयागराज कुम्भ में प्रदूषण रोकने में हमे सफलता मिली है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड एक ऐसा रास्ता बनाये जिससे विकास भी न रुके और प्रकृति के साथ संतुलन भी बना रहे।