Chhapaak Movie Review: Chhapaak Movie निचोड़ कर रख देगी आपका दिल

google

सिनेमा को हमेशा से समाज का आईना कहा जाता रहा है और बीते सालों में रुपहले पर्दे ने इस बात को लगातार साबित किया है। इस दौर में जिस तरह से सामजिक मुद्दों वाली और महिलाओं की त्रासदी को दिखानेवाली फिल्मों का ट्रेंड चला है, उसमें मेघना गुलजार निर्देशित और दीपिका पादुकोण अभिनीत छपाक सबसे मजबूत कॉन्टेंट के साथ प्रस्तुत हुई हैं।

फिल्म देखने के है कई कारण

दीपिका पादुकोण की फिल्म chhapaak इस शुक्रवार, 10 जनवरी को सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इस फिल्म को लेकर सोशल मीडिया पर खूब बातें हो रही हैं और ये लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। ऐसे में बहुत से लोग फिल्म को बॉयकॉट करने की बात भी कर रहे हैं। लेकिन इस फिल्म को देखने के कई कारण ऐसे हैं, जिन्हें जानने के बाद आप इसे देखने जरूर जाना चाहेंगे।

जितनी तारीफ की जाये उतनी है कम 

निर्देशक के रूप में मेघना गुलजार की खूबी यह है कि उन्होंने कहानी को रियलिस्टक रखा है। ऐसिड अटैक की त्रासदी को कहीं भी मेलोड्रैमेटिक या सनसनीखेज नहीं होने दिया। फिल्म का फर्स्ट हाफ जरूर कुछ सुस्त है। मगर मध्यांतर के बाद घटनाक्रम अपनी रफ्तार पकड़ता है। तलवार और राजी जैसी सफल और विचारप्रेरक फिल्मों का निर्देशन कर चुकी मेघना ने इसे डॉक्यू ड्रामा के अंदाज में पेश किया है। मेघना सुंदरता की परंपरागत धारणा पर भी प्रहार करती नजर आती हैं।

Khatrimazafull 2020 : Bollywood Movie Download, Tamil, South Indian, Khatrimaza.org

Chhapaak फिल्म देख भावुक हुए दर्शक

उनके द्वारा निभाए गए कई दृश्य आपका दिल निचोड़ कर रख देते हैं। एक दृश्य में अपनी इमिटेशन जूलरी और कपड़ों को बैग में रखते हुए कहती हैं, ‘न नाक है और न कान , ये झुमके कहां लटकाऊंगी मां?’ विक्रांत मेसी ने अपनी भूमिका को जानदार बनाया है। उन्हें और ज्यादा स्क्रीन स्पेस दिया जाना चाहिए था। लॉयर अर्चना की भूमिका में मधुरजीत सरगी ने लाजवाब अभिनय किया है। सहयोगी कलाकारों ने अपनी भूमिकाओं के साथ पूरा न्याय किया है।

इन 2 शहरों में टैक्स फ्री हुई chhapaak

दीपिका पादुकोण की फिल्म chhapaak को मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में टैक्स फ्री कर दिया गया है। बता दें ये फिल्म महिलाओं पर हुए एसिड अटैक की कहानी दिखाती है। दीपिका ने अपने जन्मदिन पर एसिड अटैक सर्वाइवर्स के साथ ये फिल्म देखी थी।

कंगना रनौत को पसंद आई Chhapaak

हमेशा दीपिका के खिलाफ बोलने वाली कंगना रनौत ने chhapaak देखने के बाद मूवी की तारीफ की है। कंगना ने एक वीडियो शेयर कर कहा हाल ही में फिल्म chhapaak मूवी देखी। फिल्म देखकर मुझे अपनी बहन रंगोली के साथ हुए हादसे की याद आ गई। मेरी बहन के साथ जो एसिड अटैक हुआ उसकी सारी यादें ताजा हो गई। अपने और परिवार के खातिर मेरी बहन रंगोली की हिम्मत मुझे हर मुश्किल हालात से पंगा लेने के लिए प्रेरित करती है। उसकी मुस्कुराहट ही मुझे दर्द से पंगा लेने की वजह देती है।

दर्शकों को पसंद आ रही Chhapaak

दीपिका की फिल्म को क्रिटिक्स ने शानदार रिव्यू दिए हैं। दीपिका के काम की काफी तारीफ की गई है। दूसरी तरफ, छपाक देखने के बाद लोगों ने भी पॉजिटिव रिव्यू दिए हैं। लोगों को दीपिका-विक्रांत की एक्टिंग, निर्देशन सब कुछ शानदार लगा है। दिल को छू लेने वाला विषय, कमाल की स्क्रिप्ट, शानदार डायरेक्शन कुल मिलाकर बेहतरीन पैकेज, और क्या चाहिए। मेघना गुलजार के निर्देशन में बनी फिल्म छपाक के लिए ये लाइनें आपको बता देंगी कि आप क्या और क्यों देखने जा रहे हैं।

अब बात करते हैं दीपिका की। पूरी फ़िल्म में आपकी नज़र दीपिका से नहीं हटेगी बावजूद इसके कि उनका चेहरा पर्फ़ेक्ट नहीं है। लेकिन कहते हैं ना असली ख़ूबसूरती भीतर होती है, तभी तो उनकी आँखें उनकी मुस्कुराहट आपका दिल जीतेंगी। जब दीपिका का किरदार ख़ुश होता है आप भी उनके साथ ख़ुश होंगे जब वो दुखी होंगी आप भी दुखी होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here