आज होगी कैबिनेट बैठक ,जानिए किन प्रस्तावों को दी जाएगी मंजूरी

● लोकभवन में आज शाम 5 बजे शुरू होगी कैबिनेट बैठक
● कैबिनेट बैठक में मिलेगी आज कई प्रस्तावों को मंजूरी
● सपा सरकार में बने 28 विकास खंड खत्म कर सकती है योगी सरकार

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज राजधानी के लोकभवन में शाम 5 बजे कैबिनेट बैठक करेंगे। इस बैठक के दौरान आज कई प्रस्तावों को मंजूरी दी जा सकती है। बता दे की इससे पहले यह कैबिनेट बैठक मंगलवार को भैया दूज के दिन होने वाली थी। लेकिन ज्यादातर मंत्रियों के बाहर होने के कारण बैठक निरस्त कर दी गई थी। आज इस बैठक के दौरान प्रदेश की सौर ऊर्जा नीति के तहत यूपीनेडा द्वारा 500 मेगावाट क्षमता का संयंत्र लगाने के लिए प्रतिस्पर्धात्मक निविदा दस्तावेजों के आधार पर कंपनियों के चयन प्रस्ताव को मंजूरी दी जाएगी।

पर्यटक पुलिस थाना खोले जाने की दी जाएगी मंजूरी

बता दे की मुख्यमंत्री ने वाराणसी दौरे के दौरान वहां पर्यटक पुलिस थाना खोले जाने की घोषणा की थी। इसकी स्थापना के लिए आज कैबिनेट बैठक के दौरान गृह विभाग को निशुल्क भूमि या भवन उपलब्ध कराने का प्रस्ताव आयेगा। उत्तर प्रदेश दंड विधि अपराधों का शमन और विचारणों का उपशमन संशोधन, विधेयक 2019 भी आना है। इसके अलावा बैठक में योगी कैबिनेट आउटसोर्सिंग से होने वाली नियुक्तियों में धांधली पर अंकुश के लिए आउटसोर्सिंग नीति सहित कई अन्य प्रस्तावों पर मुहर लग सकती है।

सपा सरकार में बने 28 विकास खंड खत्म कर सकती है योगी सरकार

बात दे की आज की महत्वपूर्ण कैबिनेट बैठक यह है की आज प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पिछले विधानसभा आमचुनाव से पहले सपा सरकार में थोक के भाव बनाए गए 30 में से 28 नए विकासखंडों के सृजन प्रस्ताव को रद कर सकती है। बताया जा रहा है कि दिसंबर-2016 में तत्कालीन अखिलेश यादव सरकार द्वारा एक ही दिन में 30 नए विकास खंड की स्थापना का एलान किया गया था। कई जिलों में एक साथ दो से तीन नए विकास खंड बना दिए गए थे। इससे प्रदेश में विकास खंडों की संख्या 821 से बढ़कर 851 हो गई थी। इनमें गोरखपुर में भरोहिया तथा प्रयागराज में सहसों व श्रृंगवेरपुर शामिल हैं। इस तरह वर्तमान में प्रदेश में 854 विकास खंड हैं। 28 को निरस्त करने पर सहमति बनी तो 826 विकास खंड रह जाएंगे।

लखनऊ-गोरखपुर के आवागमन में मिलेगी खास सुविधा

वहीं आज की इस बैठक के दौरान बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे और गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे निर्माण के लिए विकास कर्ता चयन संबंधी प्रस्ताव को भी कैबिनेट में मंजूरी मिल सकती है। बता दे की खास बात यह है कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण से इस क्षेत्र का खासा विकास हो सकेगा। साथ ही डिफेंस कॉरिडोर के निर्माण को भी बढ़ावा मिल सकेगा। इसी तरह गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के निर्माण से लखनऊ-गोरखपुर के आवागमन में खासी सुविधा मिलेगी।