बुलंदशहर : मूर्ति विसर्जित करने आये 17 वर्षीय युवक की हुई मौत

bulandshar news
bulandshar news

बुलंदशहर। यूपी बुलंदशहर जनपद के खुर्जा कोतवाली क्षेत्र से प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है,जहाँ कोरोना महामारी को देखते हुए पुर्व में ही जिला प्रशासन द्वारा मूर्ती विसर्जन और जुलुस को लेकर रोक लगाई गई थी। लेकिन प्रशासन की लापरवही और गैर मौजूदगी से एक युवक को विसर्जन के दौरान अपनी जान गवानी पड़ी।

Bulandshahr News
Bulandshahr News

जाने क्या था मामला

मोहल्ला अहिरपाड़ा निवासी शीशपाल के घर 4 दिन पूर्व दिल्ली के उत्तम नगर निवासी उसका भांजा कपिल उर्फ अरीन 17 वर्षिय पुत्र लक्ष्मण आया हुआ था। शुक्रवार शाम तकरीबन 5 बजे सभी परिजन मूड़ाखेड़ा गांव स्थित नहर पर पूजन हेतु गणेश विसर्जन के लिए गए हुए थे। इस दौरान कपिल नहर में नहाने के लिए कूद पड़ा। नहर के तेज बहाव में कपिल बह गया। इस दौरान कपिल को बहते देख परिजनों ने शोर मचा दिया। शोर सुनकर ग्रामीण जमा हो गए। कुछ तैरना जानने वाले ग्रामीण नहर में उसे बचाने के लिए कूद पड़े। सूचना मिलने पर कुछ ही देर में कोतवाल, सीओ और दमकल वाहन मौके पर पहुंच गई।परिजनों में हाहाकार मचा हुआ है। कई तैराक भी उसे तलाशने में जुटे हुए है। अभी तक कपिल का कोई सुराग नही लगा है।

रिपोर्ट – सत्यवीर सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here