Budget 2020 क्या है और कौन बनाता है ?

Budget
image source - google

आज 1 फ़रवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 11 बजे संसद में वित्त वर्ष 2019 – 2020 का बजट संसद में पेश करेंगी। इस बार पूरे देश को इस बजट से काफी उमीदें है। लेकिन क्या आपको पता है बजट तैयार कब और कैसे होता है और इसको तैयार कौन करता है। आज हम आपको इसी बारे में बताएँगे की Budget 2020 है क्या?

देश में पहली बार बजट 15 अगस्त 1947 को पेश किया गया था। इसके बाद हर साल बजट को फरवरी महीने में आखिरी वर्किंग डे को पेश किया जाने लगा पर मोदी सरकार आने के बाद सरकार ने निर्णय लिया की बजट को एक फ़रवरी को हर साल लोकसभा में पेश किया जायेगा। साधारण भाषा में कहें तो बजट सरकार की कमाई और खर्च का पूरे साल का विस्तृत लेखा-जोखा होता है। इसमें सरकार संसद में बताती है की पैसा कहाँ से कितना आया और कहा पर कितना खर्च किया गया और किस क्षेत्र में सरकार कितना पैसा खर्च करेगी। इसी के आधार पर अलग-अलग मंत्रलयों को पैसा दिया जाता है। सरकार तय कैसे करती है ये जानते है।

सरकार तय कैसे करती है

हर साल अगस्त के महीने में वित्त मंत्रालय की ओर से हर मंत्रालय और विभागों को एक सर्कुलर भेजा जाता है। इसके बाद वो वित्त मंत्रालय को बताते है की उनको इस साल किस-किस काम के लिए कितने खर्च की जरुरत है। अगले फेज में उद्योगपतियों,किसान और मजदूर यूनियन के साथ मीटिंग होती है। इसके बाद बारी आती है बजट को तैयार करने की। इसके लिए एक टीम चुनी जाती है, जिसमे 6 या 7 लोग होते है।

CAA का विरोध कर रहे जामिया के छात्र को मारी गोली, कहा- ये लो आजादी..

कौन बनाता है बजट 

बजट बनाने के लिए बनायीं गयी टीम को वित्त मंत्रालय में अगले 7 दिनों तक रखा जाता है और इनका इस दौरान बाहर की दुनिया से कोई सम्बन्ध न हो, इसके लिए फ़ोन जैमर को इनस्टॉल कर दिया जाता है और IB 24 घंटे टीम पर नजर रखती है। इस बार 2020 बजट बनाने की जिम्मेदारी 7 लोगों को दी गयी है।

2020 Badget बनाने वाली टीम के पहले सदस्य है के सुब्रमण्यन,जो वित्त मंत्री के मुख्य आर्थिक सलाहकार है। इन्होने मेरिका के शिकागो यूनिवर्सिटी से प्रोफेसर लुइगी जिंगालेस के नेतृत्व में फाइनेंशियल इकोनॉमिक्स से पीएचडी किया है। इसके बाद टीम के दूसरे सदस्य है राजीव कुमार, जो झारखण्ड कैडर के 1984 बैच के IAS अधिकारी है। इन्होने सार्वजनिक बैंकों के विलय व फंसे कर्जों पर अंकुश आदि पर काम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

इसके बाद तीसरे सदस्य है अजय भूषण पांडेय, जो UIADI (आधार कार्ड) में अध्यक्ष रह चुके है और ये महाराष्ट्र कैडर के 1984 बैच के IAS अधिकारी है। बजट 2020 बनाने वाली टीम के चौथे सदस्य है अतनु चक्रवर्ती, जो गुजरात कैडर के 1985 बैच के IAS अधिकारी है और आर्थिक सचिव है। इसी टीम के 5 वें सदस्य है टीवी सोमनाथन,जो तमिलनाडु कैडर के 1987 बैच के IAS अधिकारी है और ये वर्ल्ड बैंक में भी काम कर चुके है। 6 सदस्य है तुहिन कांत पांडेय, जो ओडिशा कैडर के 1987 बैच के IAS अधिकारी है और इस टीम के आखरी सदस्य है संजीव सान्याल, जो प्रिंसिपल इकोनॉमिक एडवाइजर है। ये एक इतिहासकार और अर्थशास्त्री भी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × four =