उत्तर प्रदेश के अधिकारियों से तंग आकर भाजपा नेता ने लिखा खून से पत्र, कहा सीएमओ ने नहीं की जांच

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को अपने रक्त से पत्र लिख कर बीजेपी नेता ने शिकायत की है। पत्र में उन्नाव के सीएमओ के खिलाफ भाजपा नेता ने रक्त से पत्र लिखा है। 

जिसमे उसने अपने बच्चे और अपनी पत्नी की मौत की जांच के सन्दर्भ में लिखा है। बीजेपी के नेता दुर्गेश राठौर ने भारतीय जनता पार्टी के विभागीय पत्र का इस्तेमाल किया है।

जिसमे सबसे ऊपर न्याय दो, न्याय दो रक्त से लिखा हुआ है। दुर्गेश राठौर OBC मोर्चा मंडल के अध्यक्ष हैं। तथा हसन गंज के रहने वाले हैं। उन्होंने यह पत्र 23 अगस्त को लिखा है। बीजेपी नेता दुर्गेश राठौर ने मुख्यमंत्री को पत्र में कहा है कि आपने पत्र लिख कर मेरे बच्चे की मौत और मेरी पत्नी की मौत की जाँच का आदेश जिला CMO को दिया था। उस पर न्याय ना मिलने के कारण मजबूरन आत्मदाह करने का पत्र सौंपा है।

अपराध का शिकार हुए भाजपा नेता, गोली मार कर की गयी हत्या

राठौर ने पत्र में आगे लिखा कि जांच के दौरान CMO ने खूब मनमानी की और पक्षपात किया।  मै कल दिनांक 22- 09-19 को गया तो मुझ पर समझौते का दबाव बनाया गया। जब मै नहीं माना तो सीएचस स्टाफ को बता कर मुझे भगा दिया।

सिर्फ इतना ही नहीं भारतीय जनता पार्टी के ओबीसी मोर्चा मंडल के अध्यक्ष ने पत्र में और आगे लिखते हुए कहा कि मै आपके निवास के सामने आत्मदाह कर लूंगा, न्याय ना मिलने पर इस समय सीएमओ की रिपोर्ट को अमान्य कर के मुझे न्याय हेतु ज़िले से बाहर बड़े स्तर की जांच कराई जाये। आप को सीएमओ के विरोध मे अपनी मुछ काट कर भेज रहा हूँ ।