योगी सरकार को बड़ा झटका, HYV के अध्यक्ष सपा में होंगे शामिल

HYV chairman
google

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 18 जनवरी को शनिवार के दिन एक बड़ा झटका उस समय लगा जब हिंदू युवा वाहिनी (Hindu Yuva Vahini) के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) का दामन थामने की घोषणा की। सुनील सिंह कभी योगी आदित्यनाथ के बहुत करीबी रह चुके हैं। सुनील सिंह को हिंदू युवा वाहिनी से निष्कासित किया जा चूका है और फिलहाल अब वह हिंदू युवा वाहिनी भारत के नाम से बनाए गए संगठन के अध्यक्ष हैं।

राजधानी लखनऊ में आज शनिवार को सुनील सिंह अपने कार्यकर्ताओं के साथ समाजवादी पार्टी के दफ्तर में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ग्रहण करेंगे। सुनील सिंह ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि राज्य के युवाओं, बेरोजगारों, गरीबों तथा मजदूरों के मसीहा अखिलेश यादव की सरकार बनाने के लिए सपा में शामिल होने के लिए लखनऊ जा रहा हूं। उन्होंने आगे कहा कि हमारा पहला संकल्प है कि साल 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की सरकार बने।

सपा सुप्रीमो का आगामी चुनाओं में गठबंधन से इंकार

HYV (भारत) के अध्यक्ष सुनील सिंह ने पत्रकारों से बताया कि फिरकापरस्त ताकतों तथा धोखेबाजों से लड़ने के लिए सपा में शामिल होने जा रहा हूँ। उन्होंने कहा कि वह पिछले सप्ताह राजधानी लखनऊ में अखिलेश यादव से मिले थे। साथ ही कहा कि हिंदू यूवा वाहिनी (भारत) के सभी पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता शनिवार को समाजवादी पार्टी में विलय करेंगे। गोरखपुर (Gorakhpur) की खजनी तहसील के अंतर्गत अहमदपुर गांव में रहने वाले समय सुनील सिंह एक समय मुख्यमंत्री योगी के बेहद ख़ास थे। जुलाई 2018 में रासुका (NSA) के तहत योगी सरकार ने उनपर कार्रवाई किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here