बलरामपुर अस्पताल में नर्सों ने किया कार्य बहिष्कार, डायरेक्टर पर लगाए आरोप

balrampur hospital nurse strike
Image source - Google

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्थित बलरामपुर अस्पताल में आज बुधवार को सभी नर्सों ने कार्य करने से मना कर दिया। इनका आरोप है कि डायरेक्टर डॉ राजीव लोचन ने इस्तेमाल किए हुए ग्लब्स को जबरदस्ती नर्स की जेब में रख दिया। इसके साथ ही एक और आरोप डायरेक्टर पर नर्सों द्वारा लगाया जा रहा है कि डायरेक्टर डॉ राजीव लोचन ने 1 अप्रैल से लेकर 10 अप्रैल तक COVID-19 वार्ड में ड्यूटी करने वाली नर्सेज को बिना क्वॉरेंटाइन किए ही घर भेज दिया।

योगी सरकार का बड़ा फैसला, 15 जिले किए गए सील

ये दो गंभीर आरोप बलरामपुर अस्पताल के डायरेक्टर डॉ राजीव लोचन पर लगाए गए हैं। नर्सों की मांग है कि डायरेक्टर को हटाया जाए। जब तक यह कार्यवाही नहीं होती तब तक रोज वे 2 घंटे कार्य का बहिष्कार करेंगी। नर्सों के साथ कुछ डॉक्टरों ने भी कार्य से बहिष्कार कर दिया है। हड़ताल करते हुए इन्होंने नारे लगाए की ‘इंकलाब जिंदाबाद‘ ‘हमसे जो टकराएगा चूर चूर हो जाएगा ।’

कोरोना को लेकर पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सांसद व विपक्षी सांसदों से की वार्ता

बता दें लखनऊ के बलरामपुर हॉस्पिटल में भी कोरोनावायरस के कुछ मरीजों का इलाज चल रहा है। इसमें तबलीगी जमात से जुड़े हुए 25 लोगों का भी इलाज चल रहा है। इन लोगों द्वारा डॉक्टर और नर्सों से अभद्रता करने की शिकायत भी आई थी। इसकी शिकायत अस्पताल प्रशासन ने पुलिस से की थी। इसके बाद पुलिस ने आकर इनके खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here