बलिया : CMO ने निर्भया के दादा से किया अमान्य व्यवहार

CMO treated Nirbhaya's grandfather indecently

उत्तर प्रदेश में बलिया के चीफ मेडिकल ऑफिसर (CMO) ने निर्भया के दादा से बदसलूकी किया और निर्भया को लेकर अभद्र बयान भी दिया है। निर्भया के पैतृक गांव बलिया जिले में उसके नाम पर अस्पताल चालू किया गया है। इस अस्पताल में डॉक्टरों और मूलभूत सुविधाओं की कमी को लेकर निर्भया के परिवार वाले धरने पर ग्रामीणों के साथ बैठे जहाँ बलिया सीएमओ ने मौके पर पहुंचकर उनके और गांव वालों के साथ बदसलूकी किया।

मुख्यमंत्री का ऐलान, LU में होगी अटल सुशासन पीठ की स्थापना

सीएमओ ने कहा कि “आजतक किसी ने इस गांव में डॉक्टरी तो पढ़ी नहीं है और इनको डॉक्टर चाहिए। पहले गांव में कोई मेडिकल साइंस पढ़े और फिर वह इसी अस्पताल में डॉक्टर बन जाए”। उन्होंने आगे कहा कि इस गांव में किसी ने डॉक्टर तो बनाया नहीं तो अस्पताल क्यों खुलवा डाला और हम कहा से डॉक्टर को लेकर आएं। यहाँ पर जितने पद हैं, उतने डॉक्टर ही पैदा नहीं होते हैं और यह अस्पताल हमने नहीं बनवाया है, जिसने बनवाया है उससे जाकर मांगो। सीएमओ इतने पर भी नहीं रुके और निर्भया के दादा और गांव वालों के बाद निर्भया को भी नहीं छोड़ा। निर्भया के दादा ने जब अपनी पोती के बारे में ज़िक्र किया तो सीएमओ ने कहा कि “कौन है निर्भया? अगर वह डॉक्टरी पढ़ रही थी तो दिल्ली क्यों गई?”।

दिल्ली में वर्ष 2012 में सामूहिक बलात्कार पीड़िता निर्भया की माँ आशा देवी ने इसके बाद सीएमओ को हटाने कि मांग किया है। उन्होंने कहा कि “यह देखना अविश्वसनीय है कि आज 7 साल बाद, CMO जैसा व्यक्ति मेरी बेटी को दोषी ठहरा रहा है। मैं स्वास्थ्य विभाग से अनुरोध करती हूं कि सीएमओ को निलंबित किया जाना चाहिए। उन्होंने जो कहा उसके लिए उन्हें माफी भी मांगनी चाहिए। मैं दिल्ली से विरोध का समर्थन करूंगी”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here