परिवहन मंत्री द्वारा बेबी केयर क्यूबिकल का हुआ आज उद्घाटन

यूपीएसआरटीसी बोर्ड के पिछले माह में लिए गए निर्णय के क्रम में आज माननीय परिवहन मंत्री श्री अशोक कटारिया ने प्रमुख सचिव परिवहन श्री अरविंद कुमार की गरिमापूर्ण उपस्थिति में पहले बेबी केयर क्यूबिकल का उद्घाटन किया। डॉ रूथ लीनो, राज्य प्रमुख यूनिसेफ, श्री राज शेखर, एमडी यूपीएसआरटीसी, श्री अजय प्रताप सिंह, श्रीमती आरती नोडल अधिकारी सामुदायिक सशक्तिकरण लैब, श्री हसमत खान नोडल अधिकारी इंडिया ऑयल कॉर्पोरेशन, यूपीएसआरटीसी के वरिष्ठ अधिकारी, श्री पल्लव बोस, डीआईजीएम बैंक ऑफ बड़ौदा, आरएम लखनऊ, श्रीमती श्वेता एआरएम और “शिशुओं सहित माताओं” की गरिमापूर्ण मौजूदगी में फीता काटकर उद्घाटन किया।

यूपीएसआरटीसी बोर्ड ने यूपी के सभी प्रमुख बस स्टेशनों में नवजात शिशुओं एवं स्तनपान कराने वाली माँताओं की आवश्यकता और जरूरत को ध्यान में रखते हुए, “बेबी केयर क्यूबिकल” के निर्माण का निर्णय लिया है। आने वाले दिनों में “विशेषज्ञ सलाह” और “योजना सुधार के लिए” यूनिसेफ और सीईएल ने यूपीएसआरटीसी के साथ हाथ मिलाया है। वे हमारे बोर्ड के साथ “नॉलेज पार्टनर” के रूप में जुड़े हुए हैं।

परिवहन मंत्री का बड़ा बयान, यूपी में घट सकती हैं चालान की दरें

एक माँ और नवजात बच्चे की आवश्यकताओं एवं जरूरतों को अच्छी तरह से ध्यान में रखते हुए प्रोटोटाइप की डिजाइन प्लान किया गया था। यूनिसेफ और सीईएल टीम द्वारा माँताओं की प्रतिक्रिया लेकर एक स्टडी तैयार किया गया और फिर इसकी डिजाइन प्लान की गई और उसके बाद उसका अंतिम रूप दिया गया। क्यूबिकल के प्रवेश द्वार एवं सभी दीवारों पर कई प्रेरक और उत्साहजनक संदेश और चित्र प्रदर्शित किए गए हैं।

इस सुविधा में शिशु स्तनपान के लिए दो चेम्बर, डायपर बदलने के लिए एक टेबल और एलईडी लाइट, पंखे और मां के उपयोग के लिए “पैनिक / अलार्म बटन” की सुविधा बनाई गयी है। यूपीएसआरटीसी बोर्ड ने प्रत्येक बस स्टेशन में प्रत्येक बेबी केयर क्यूबिकल के लिए एक महिला अधिकारी को नोडल प्रभारी अधिकारी के रूप में रखा है, जो दिन ब दिन बेबी केयर क्यूबिकल का देखरेख करेंगी।

यूनिसेफ ने पाक्षिक एवं मासिक आधार पर इन क्यूबिकल के कार्य का अध्ययन करने एवं इस सेवा को और अधिक उपयोगी बनाने के लिए अगर कोई सुधार किया जाना हो तो, उसकी सलाह देने के लिए विशेषज्ञों की एक टीम तैनात किया है।

भारतीय तेल निगम और बैंक ऑफ बड़ौदा यूपीएसआरटीसी के साथ इस नई और अनूठी पहल में हमारे प्रायोजक पार्टनर के रूप में जुड़े गए हैं।

यूपीएसआरटीसी दिसंबर 2019 तक 100 ऐसे क्यूबिकल (प्रत्येक चयनित बस स्टेशन में से एक) की स्थापना करेगा। इससे हजारों माताओं और नवजात बच्चों को हाइजीनिक और ‌स्वस्थ तरीके से स्तनपान कराने में मदद मिलेगी। यह अधिक से अधिक माताओं को स्वस्थ समाज के स्वस्थ बच्चों के व्यापक हित में शिशु स्तनपान अपनाने एवं इसे बढ़ावा देने के लिए प्रेरित करेगा। 

डॉ रूथ लीनो ने सभा को संबोधित किया और यूपीएसआरटीसी द्वारा की गई इस अनूठी पहल की सराहना की। और सार्वजनिक स्थानों पर इस तरह के लोगों के अनुकूल पहल करने के लिए यूपी सरकार को बधाई दी। यह भी एक महान संयोग है कि इस सुविधा का उद्घाटन “बेबी केयर डे” ​​के 30वीं वर्षगांठ पर किया गया।

सीईएल की श्रीमती आरती ने सभा को संबोधित किया और बताया कि बस स्टेशनों पर इस सुविधा की सबसे ज्यादा ज़रूरत थी। स्तनपान सबसे अच्छा उपहार है जिसे एक माँ अपने बच्चे को दे सकती है और एक बच्चा अपनी माँ से प्राप्त कर सकता है।

प्रमुख सचिव परिवहन ने सभा को संबोधित किया और कहा कि यह नई पहल निश्चित रूप से माँ और नवजात शिशुओं के लिए बहुत उपयोगिजनक और फायदेमंद साबित होगी तथा माताओं के स्तनपान की आदतों को प्रोत्साहित करेगी।

माननीय परिवहन मंत्री ने संबोधित किया और कहा कि सरकार और यूपीएसआरटीसी जनता और सार्वजनिक सेवाओं के लिए समर्पित हैं। बेबी केयर क्यूबिकल हजारों यात्री माताओं और बच्चों की मदद करेगा। उन्होंने यह भी कहा कि भविष्य में भी यूपीएसआरटीसी अपने यात्रियों के लिए सुविधाओं में सुधार एवं नई सेवाओं को जोड़ना जारी रखेगा।

आईओसी नोडल अधिकारी श्री हसमत ने सभा को संबोधित किया और कहा कि भारत सरकार की प्रमुख आईओसी यूपीएसआरटीसी की इस तरह की सार्वजनिक सुविधा से जुड़ी इस तरह की पहल के साथ जुड़कर काफी खुश है और उनकी मदद करके वे गौरवान्वित महसूस करते हैं।

बैंक आफ बड़ौदा के श्री अजय प्रताप सिंह ने सभा को संबोधित किया और कहा कि बैंक आफ बड़ौदा इस तरह की सार्वजनिक गतिविधियों को काफी प्राथमिकता देता है और बैंक इस पहल से जुड़े होने से काफी खुश है। बैंक आगे आने वाली इस तरह के सार्वजनिक सेवा के कार्यों में यूपीएसआरटीसी के साथ जुड़कर हमेशा काम करेगा।