UP : Cyber crime की इस पुस्तक को गृह मंत्री ने किया सम्मानित

UP : Cyber crime डिजिटल भारत के बढ़ता जा रहा है। हर दिन कोई न कोई ऑनलाइन फ्रॉड की खबर सुनने को मिल जाती है। इन ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के लिए तरह तरह की जानकारी कंपनियों द्वारा दिया जाता है लेकिन फिर भी धोखा हो ही जाता है। लेकिन अब एक किताब इस ऑनलाइन फ्रॉड और साइबर क्राइम से बचने के लिए गोंडा के ASP द्वारा लिखी गई है। इस पुस्तक के लिए ASP को गृह मंत्री ने सम्मानित भी किया है।

गोंडा जिले में तैनात एडिशनल एसपी शिवराज की लिखी पुस्तक “सोशल मीडिया से साइबर क्राइम” को पंडित गोविंद बल्लभ पंत पुरस्कार से नवाजा गया है। आयोजित कार्यक्रम में पुरस्कार देश के गृहमंत्री अमित शाह ने अपने हाथों से एडिशनल एसपी शिवराज को दिया। पूरे भारत से 6 लोगों को सम्मानित करने के लिए बुलाया गया था। जिसमे उत्तर प्रदेश पुलिस से ASP शिवराज को चुना गया।

सोशल मीडिया से साइबर क्राइम किताब” को ASP व उनके मित्र मोहम्मद हसन जैदी ने मिलकर लिखी है। इस पुस्तक में सोशल मीडिया के जरिए अपराध कैसे किए जाते हैं व किस तरह के क्राइम होते हैं इसके बारे में विस्तार से लिखा गया है। इस पुस्तक का इस्तेमाल पुलिस विभाग साइबर सेल द्वारा भी उपयोग में लाया जाता है। एएसपी शिवराज उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के रहने वाले हैं।

पुलिस विभाग में रहते हुए इन्होंने महिला उत्पीड़न व साइबर क्राइम को लेकर कई कार्य व शोध किए है। Cyber crime पर शोध करते हुए इन्होंने सोशल मीडिया से साइबर क्राइम पुस्तक लिखी। इस पुस्तक में साइबर अपराध से जुड़े तमाम पहलुओं पर विस्तार से बात की गई है। एडिशनल एसपी का कहना है की पुस्तक में ऐसी सभी जानकारियां उपलब्ध कराने का प्रयास किया गया है, जिनसे लोग जरा सी सावधानी से साइबर अपराध का शिकार होने से बच सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here