कृषि बिल: राजस्थान सीएम ने कहा राष्ट्रपति की रही होगी कोई मज़बूरी तभी नहीं मिला…

ashok gehlot attack on central government
image source - google

कृषि बिल को लेकर इस समय राजनीति गर्म है। विपक्ष सरकार को घेरने का प्रयास कर रहा है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कृषि बिल को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों और किसान संगठनों, कृषि विशेषज्ञों से बीना चर्चा किए कृषि बिल बनाया और आनन-फानन में बिना चर्चा किए बहुमत के दम पर संवैधानिक तरीके से पास कराया। जबकि विपक्ष इन कृषि ब्लॉक को सेलेक्ट कमेटी को भेजकर चर्चा की मांग कर रहा था।

अपने अगले ट्वीट में गहलोत ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस कानून को लेकर महामहिम राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा था लेकिन उन्हें वह भी नहीं दिया गया। सरकार ने इस बिल को पास कर दिया। जिसके चलते आज पूरे देश के किसान सड़कों पर हैं।

लोकतंत्र के अंदर संवाद सरकार के साथ इस प्रकार कायम रहते तो यह चक्का जाम के हालात आज नहीं बनते एवं आम लोगों को तकलीफ का सामना नहीं करना पड़ता। केंद्र सरकार को बिना देरी किए तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेना चाहिए और अन्नदाता के साथ दुर्व्यवहार के लिए माफी मांगनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here