जानें व्हाइट हाउस में बने बंकर के बारे में, जिसमें परिंदा भी नही मार सकता पर

white house bunker
image source - google
अमेरिका में 19 साल बाद ऐसा हुआ कि किसी राष्ट्रपति को बनकर में जाना पड़ा। दरअसल अमेरिकी पुलिस द्वारा एक अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लोएड की मृत्यु हो जाने की वजह से गृह युद्ध छिड़ा हुआ है। इस घटना से लोग पुलिस से काफी नाराज हुए और प्रदर्शन करने के लिए लाखों की संख्या में सड़कों पर उतर आए। लोग इतने आक्रोश में थे कि वे वाइट हाउस के बाहर एकत्रित होकर प्रदर्शन करने लगे और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
प्रदर्शन हिंसक होता देख सीक्रेट सर्विस एजेंट ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को सलाह दी कि उनको बंकर में चले जाना चाहिए। जिसके बाद डोनाल्ड ट्रंप व्हाइट हाउस में 5 मंजिल नीचे बने बंकर में चले गए। ऐसा 19 साल बाद होगा कि किसी राष्ट्रपति को बंकर में जाना पड़ा। इससे पहले 2001 में अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश को बनकर में ले जाया गया था।
इस बंकर को प्रेसिडेंशियल इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर (PROC) के नाम से जाना जाता है। यह इतना सुरक्षित है कि इस पर परमाणु हमने कभी असर नहीं होता। व्हाइट हाउस में यह बंकर 5 मंजिल नीचे बना हुआ है और इससे कई सुरंगे जुड़ी हुई है। इस बंकर में अत्याधुनिक दरवाजे लगे हुए हैं। जो स्पेशल कोर्ट्स द्वारा खोलते हैं और इन कोड्स की जानकारी राष्ट्रपति के अलावा उनकी सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों को ही होती है। जब कभी भी ऐसे हालात बनते है कि राष्ट्रपति की जान को खतरा हो, तब राष्ट्रपति को बंकर में भेज दिया जाता है।
इस बंकर को द्वितीय विश्व यद्ध के समय  राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डी रूसवेल्ट ने बनवाया था। इसमें 2 लिफ्ट और एक सीढ़ी है। इसके साथ ही सभी आवश्यक सुविधाएं इसके अंदर उपलब्ध हैं। फिर चाहे वो खाने-पीने की हो या फिर संचार स्थापित करने की। अमेरिकी राष्ट्रपति बंकर से ही बाहर की दुनिया से जुड़े रह सकते हैं और पल-पल की खबर रखते हैं। यह बात सबको पता है कि व्हाइट हाउस के नीचे एक बंकर बना हुआ है। लेकिन इसकी वास्तविक स्थिति के बारे में किसी को नहीं पता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here