भारत चीन हिंसक झड़प में शहीद हुए जवानों को अमेरिका ने दी श्रद्धांजलि, कहा हम भारत के साथ

indo china border dispute
image source - google

15 जून की रात को लद्दाख के गलवान घाटी में चीन और भारत के सैनिकों के बीच हुए हिंसक झड़प में भारत के 20 और चीन के 5 जवान शहीद हुए थे। इस पर अमेरिका ने गहरी संवेदनाएं व्यक्त की। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पिय ने कहा कि भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प में कई जवान शहीद हुए हैं। भारत के लोगों के प्रति हम गहरी संवेदनाएं व्यक्त करते हैं। इस दुख की घड़ी में हम जवानों, उनके परिवार और उनके चाहने वालों के साथ हैं।

भारत-चीन सीमा विवाद पर ट्रंप की नजर

भारत और चीन के बीच चल रहे विवाद की खबर अमेरिकी राष्ट्रपति को है। व्हाइट हाउस ने कहा कि “अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प की जानकारी है।” मालूम है इससे पहले डॉनल्ड ट्रंप मध्यस्थता करने का प्रस्ताव दे चुके हैं लेकिन भारत और चीन ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था।

वही आज भारत चन सीमा विवाद को लेकर शाम 5:00 बजे सर्वदलीय बैठक होनी है। जिसमें देश के सभी राजनीतिक पार्टियां शामिल होंगी। लेकिन इस बैठक में आम आदमी पार्टी को न्योता नहीं दिया गया है। जिसकी वजह से वे नाराज हैं। सूत्रों के अनुसार आज होने वाली बैठक में कांग्रेस दोनों पक्षों के बीच हुई झड़प के तथ्य केंद्र से मांग सकते हैं।

आज सर्वदलीय बैठक में कॉन्ग्रेस, सीपीआई, शिवसेना, एनसीपी, सपा, टीएमसी, जेएएम, टीडीपी, शिरोमणि अकाली दल, लोक जनशक्ति पार्टी आदि के प्रमुख नेता शामिल होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here