अखिलेश यादव ने बीजेपी और CM योगी पर बोला जोरदार हमला

Source - Google

लखनऊ : सपा मुखिया अखिलेश यादव ने ”श्याम चरित मानस” नामक पुस्तक का समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यालय में विमोचन किया गया। इसके साथ ही कई बड़े नेता समाजवादी पार्टी में शामिल हुए, पूर्व सांसद यशवीर सिंह, बसपा नेता हरिशंकर राजभर, मुन्ना यादव, पूर्व मंत्री मान पाल सिंह, और बसपा नेता अब्दुल हफीज भी सपा में शामिल हुए। समाजवादी पार्टी में शामिल होने वालों को बधाई देता हूँ।

आने वाले समय मे उत्तर प्रदेश से बीजेपी का सफाया होना जा रहा है उसकी तैयारी आज हो रही है। बहुत पुराने नेता शेख सुरेमान कुछ दिनों के लिए नाराज हो गए थे आज फिर से आकर हमारा मान बढ़ाया है। बढ़ी संख्या मे जो नौजवान साइकिल यात्रा में साथ रहे उनका भी अखिलेश यादव ने धन्यवाद किया। अखिलेश यादव ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा अपने ही नेता का सम्मान नहीं करती है भाजपा, पूर्व पीएम के नाम पर आज तक नहीं बन पाई मेडिकल यूनिवर्सिटी। उनके गांव बटेश्वर में भी कोई काम नहीं हो पाया।

आगे उन्होंने कहा कि सरकार को अपना चुनाव चिन्ह ‘बुलडोजर’ रख लेना चाहिए। ‘बुलडोजर’ ही इस सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है। ‘बुलडोजर’ में स्टीयरिंग लगा होता है। स्टीयरिंग घूमने पर ‘बुलडोजर’ दूसरी तरफ चलने लगेगा। भारतीय जनता पार्टी की सरकार का जाना तय है। इसलिए सरकार के मुखिया की भाषा बदल गयी है। क्योंकि उत्तर प्रदेश की जनता बदलवाव चाहती है। समाजवादी सरकार में हो रहे कामो को दोबारा चाहती है जनता। बीजेपी के पास अपने काम बताने को नही है। समाजवादियो के काम पर अपनी मोहर लगा रही है।

UP : भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय प्रमुख ने जनसभा में भाजपा को कहा झूठा

बीजेपी पर अखिलेश यादव ने तंज कसा कहा विदेशों की तस्वीर लगाकर विकास दिखा दिया कि विकास क्या है। एक भी काम का इस सरकार ने शिल्यानस नही किया जिसका उद्धघाटन किया हो। अपनी पार्टी के नेताओ को सम्मान देने के लिए भी कोई काम नही किया। 25 दिसम्बर 2019 को देश के पीएम को बुलाकर मेडिकल यूनिवर्सिटी का शिल्यानस किया गया। आज इतना समय बीत जाने के बाद भी वो यूनिवर्सिटी नही चल पाई।

नेताओं का गांवों में वादा किया गया पर कोई काम नही किया है। भविष्य मे अच्छी यूनिवर्सिटी या कॉलेज बटेस्वर में बनाया जाएगा। हाल ही मे बाबा मुख्यमंत्री कुशीनगर गए थे। जब गरीब परिवारों को मिलना था तो गरीब परिवार के बच्चों को साबुन और शेम्पू बतवाया गया था। ताकि उनकी बदबू न लगे बाबा जी को इसलिए वो नहा कर आये है। इसलिए मुख्यमंत्री अब भाषा बदल रहे है ताकि लोग आवाज या सवाल न उठाएं। इस सरकार ने ऑक्सीजन छीनी है । न बेड, न दवा किसी भी चीज का इंतजाम नही किया, जिससे लोगो की जान चली गयी। किसानो की आय दोगुनी करने की बात कही थी मंहगाई बढ़ती जा रही है। सरसो का तेल आखिर महंगा होने की वजह पूछी तो बताते है हमने मिलावट नही की इसलिए महंगा हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here