अखिलेश ने सरकार से भूखे प्यासे लोगों को ‘समाजवादी राहत पैकेट की तरह खाने के पैकेट उपलब्ध कराने का किया आग्रह

akhilesh yadav
google

इस समय पूरा देश कोरोना के कारण परेशान हो रखा है। सभी कोरोना को ख़त्म करने के लिए अपने अपने घरों में कैद है। भारत सरकार ने पुरे देश में लॉक डाउन लगा दिया है। इसके चलते आम जनत ऐसे लेकर बड़े बड़े लोग भी अपने घरों में कैद है। जिससे देश से कोरोना को भगाया जा सके। लेकिन इसके चलते जो लोग प्रतिदिन दिहाड़ी पर काम करने वाले थे। उनका गुजरा मुश्किल हो गया है।

इसके चलते कुछ लोगो को भुखमरी का समना करना पड़ रहा है। कुछ लोग तो ऐसे है की जिनके पास रहने को घर नहीं है। उन्हें और भी ज्यादा भूख का समाना करना पड़ रहा है। इसी के चलते समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश सरकार से कोरोना संक्रमण के चलते घोषित लॉक डाउन के कारण बड़ी संख्या में भूखे प्यासे लोगों को ‘समाजवादी राहत पैकेट’ की तरह खाने के पैकेट उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।

बता दूँ की अखिलेश ने यहां एक बयान में कहा ”आज प्रदेश की सड़कों पर जिस प्रकार लाखों लोग भूखे प्यासे हैं और आपूर्ति के अभाव में जनता त्रस्त है, ऐसे में मुख्यमंत्री जी सपा सरकार के समय भोजन के लिये वितरित किये गये समाजवादी राहत पैकेट को बांटने का निर्देश जिलाधिकारियों को दें। इनके लिये नियम भी बने हैं। चाहें तो नाम बदल दें।

मालूम हो कि वर्ष 2016 में तत्कालीन अखिलेश सरकार के कार्यकाल में सूखाग्रस्त हुए बुंदेलखण्ड के दो लाख 30 हजार परिवारों को ‘समाजवादी राहत पैकेट’ वितरित किये गये थे। इन पैकेट में 10 किलोग्राम आटा, पांच किलो चावल, पांच किलो दाल, 25 किलो आलू, पांच लीटर सरसों का तेल, एक किलो देसी घी और एक किलो मिल्क पाउडर दिया गया था।

अखिलेश ने सरकार को ‘समीक्षा बैठकों’ में अपना वक्त बर्बाद न करने की सलाह देते हुए कहा कि इस कठिन समय में सरकार को तत्काल देश के सभी जन धन खाताधारकों के बैंक खातों में सहायता राशि डालने का प्रबन्ध करना चाहिये। साथ ही जो लोग रास्तों पर भटक रहे हैं, उनके भोजन पानी, चिकित्सा और सुरक्षित दूरी बनाये रखते हुए रैन बसेरों का भी इंतजाम करना चाहिये।

उन्होंने कहा कि सरकार से अपील है कि गरीब लोगों के लिये भोजन की फौरन व्यवस्था करे जिससे वे घास खाने को मजबूर न हों। साथ ही सब्जी जैसी दैनिक उपयोग की चीजों पर पुलिस संयम बरते।इस बीच, सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश के निर्देश पर दल के कार्यकर्ताओं ने बड़े पैमाने पर जरूरतमंदों को राहत सामग्री का वितरण शुरू कर दिया है।

उत्तर प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला डोर टू डोर पहुंचाया जाएगा सामान, जोमैटो-स्विगी…

पार्टी कार्यकर्ता हर जिले के गांवों, कस्बों और शहरों में सुरक्षित दूरी के नियमों का पूरी तरह पालन करते हुए सामग्री बांट रहे हैं। उन्होंने बताया कि लॉक डाउन के बाद किसी दूसरे शहर में फंसे उत्तर प्रदेश के सैकड़ों लोग बड़ी संख्या में पैदल ही अपने अपने गांवों और कस्बों की तरफ आ रहे हैं। सपा कार्यकर्ता पूरी सक्रियता के साथ ऐसे लोगों को खाने की सामग्री और पानी उपलब्ध करा रहे हैं।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here