आत्मदाह करने वाले युवक की मदद करने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

google

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के स्थित बापू भवन के सामने बीते दिन यानि कल रविवार को एक व्यक्ति ने पुलिस पर परेशान करने का आरोप लगाते हुए खुद को आग ली थी। आपको बता दें कि जिस युवक ने आग लगाई उसका नाम अमित रावत है जो की काकोरी के गुड़गुडी चौकी का रहने वाला है। उसने बापू भवन के सामने पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए खुद को आग लगा थी।

इस मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने आत्महत्या के प्रयास में मदद करने वाला अभियुक्त गिरफ्तार कर उस पर मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने बताया की 24-11-2019 को लगभग 12:46 पर अमित नामक एक व्यक्ति द्वारा बापू भवन गेट नंबर 2 पर आग लगाने की घटना कारित की गई।

राजधानी डीएम और एसएसपी ने किया औचक निरिक्षण

फुटेज के अवलोकन से पाया गया है कि उसके साथी धर्मेंद्र सिंह निवासी पिपरसड़ बंथरा लखनऊ द्वारा उसे बाइक सै मौके पर लाया गया तथा पूरी घटना कारित कराई गई। ये सब फुटेज के आधार पर थाना हुसैनगंज पर 299/19 धारा 306/511आईपीसी पंजीकृत कर अभियुक्त उपरोक्त को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।

गौरतलब है की युवक पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा था की जितेंद्र चैरसिया नामक युवक और पुलिस की मिली भगत होने के चलते उसकी जमीन पर कब्जा कर लिया गया है। उसने कहा था की उसने इस मामले की शिकायत कई बार पुलिस से की लेकिन दलाल पुलिस वालो ने उल्टा उसी पर ही मुकदमा दर्ज कर लिया। जिसके बाद ही अमित रावत ने न्याय न मिलने पर बापू भवन के सामने मिट्टी का तेल डालकर खुद को आग के हवाले कर लिया।