सोनभद्र में धंसी पत्थर की खादान, फंसे 4 मज़दूर

Accident occurred during stone mining
google

उत्तर प्रदेश का सोनभद्र जिला सोने का भंडार पाए जाने से लगातार चर्चा में छाया हुआ है। लेकिन शुक्रवार की शाम को यहां एक बड़ा हादसा होने की वजह से ख़बरों में है। सोनभद्र में ओबरा थाना क्षेत्र के बिली मारकुंडी खनन इलाके में शाम को लगभग 5:00 बजे के समय एक पत्थर की खदान धंस गई जिसमे कम से कम 6 मज़दूर दब गए थे। इनमे से 2 मज़दूरों को बचा लिया गया था और एक को अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है। इस खादान में अभी भी 4 मज़दूरों के फंसे होने की आशंका है जिन्हे बचाने के प्रयास किये जा रहे हैं।

सोनभद्र में तीन हजार टन सोना मिलने की बात गलत: GSI

सोनभद्र के डीएम एस राजलिंगम का कहना है कि “हमें बताया जा रहा है कि लगभग 6 लोग यहां काम कर रहे थे। 2 को बचा लिया गया है और एक अस्पताल ले जाया गया है। वे स्थिर हैं। बचाव अभियान जारी है। NDRF को सूचित कर दिया गया है”। ओबरा के पुलिस निरीक्षक शैलेश राय ने बताया है कि दो घायल मज़दूरों को बचा लिया गया है और उनको ओबरा अस्पताल में भेज दिया गया है। इस अस्पताल में घायल मज़दूरों का इलाज किया जा रहा है।

मज़दूरों के घायल होने की खबर मिलने के बाद प्रशासन में अफरा तफरी मच गई और आनन फानन में पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। घटना स्थल पर पुलिस बचाव कार्य में जुट गई है। हादसे के बाद से इलाके में दहशत फैली हुई है और मलबे में और भी लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। जिला खनन अधिकारी केके राय का कहना है कि साइट का निरीक्षण करने के बाद ही स्पष्ट होगा कि वहां पर और कितने मज़दूर हैं। जब उनसे पूछा गया कि क्या वहां पर अवैध रूप से खनन का काम किया जा रहा था तो उन्होंने बताया कि यह भी जाँच होने के बाद हो पता चलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here