जानें आँख का फड़कना(Aankh ka fadakna) महिलाओं और पुरुषों के लिए किस बात का संकेत देता है।

Aankh ka fadakna
Aankh ka fadakna

जानें ज्योतिष में आँख का फड़कना(Eye Twitching) किन के लिए शुभ का संकेत देता है और किन के लिए अशुभ है। जानें आँख के फड़कने(Aankh ka Phadakna)  के पीछे की धार्मिक और वैज्ञानिक कारण :

क्या है आँख का फड़कना (Aankh ka Phadakna)

आँख का फड़कना एक बहुत ही आम बात है। आप अपने आस-पास लोगों को आँख फड़कने की शिकायत करते हुए सुना होगा। आँख फड़कने में कुछ मिनट के लिए दिक्कत आती है  फिर यह अपने आप सही भी हो जाती है। यह कोई बड़ी समस्या या बीमारी नहीं है। लेकिन हिन्दू धर्म में इसे शुभ और अशुभ संकेत से जोड़ दिया गया है। 

महिलाओं में आँख फड़कना (Left  or Right Eye Twitching in Female)

आँख का फड़कना (Aankh ka Phadakna) एक बहुत ही छोटी बात है लेकिन हिन्दू धर्म में इसे महिलाओं के लिए अलग और पुरुषों के लिए अलग – अलग नजरिये से देखा जाता है |अगर किसी औरत की बाई आँख फड़कती(left eye ka fadakna for female in hindi) है तो उसे हिन्दू धर्म में शुभ संकेत माना जाता है। यदि किसी महिला की बाई आँख फड़कती है तो उसे हिन्दू धर्म में लोग कहते हैं की कुछ अच्छा होने वाला है | घर में कुछ अच्छा आने वाला है या फिर कोई धन की प्राप्ति होने वाली है। लेकिन यदि महिलाओं की दाई आँख फड़कना (right eye ka fadakna for female in hindi) अशुभ संकेत का इशारा मानते हैं। कहते हैं की घर में कुछ बुरा होने वाला है जैसे की लड़ाई दंगा या फिर कोई दुर्घटना घटने वाली है|

पुरुषों में आँख का फड़कना(Aankh ka fadakna in Male) | 

यदि पुरुषों की बात की जाये तो पुरुषों की दाई आँख का फड़कना(Aankh ka fadakna) शुभ माना जाता है। मतलब की यदि किसी पुरुष की दाहिनी आँख फड़क(right eye ka Phadakna for male in hindi) रही है तो उसे हिन्दू धर्म में शुभ मानते हैं कहते हैं इसके साथ कुछ अच्छा होने वाला है। यदि पुरुषों में बाई आँख फड़कने(left eye ka fadakna for male in hindi) को अशुभ माना जाता है कहते हैं कि कुछ दुर्घटना घटित होने वाली है या फिर इसके साथ कुछ अनहोनी होने वाली है ।   

आँख फड़कने कि वैज्ञानिक कारण (Scientific Reason of Eye Twitching)

यदि आँख फड़कने कि वैज्ञानिक कारण कि बात करें तो वैज्ञानिकों का कहना है कि दाईं आँख का फड़कना(Right Aankh ka fadakna) और बाईं आँख का फड़कना(Left Aankh ka fadakna)  विज्ञानं इन ज्योतिष या फिर धर्म में विश्वाश नहीं करता है उनका कहना है कि जब हमारे आँखों में बहुत ज्यादा स्ट्रेस या फिर आवश्यकता के अनुसार नींद न पूरी होना या फिर दिमाग में बहुत ज्यादा टेंशन होना या स्क्रीन टाइम ज्यादा होना इसकी वजह से आँख फड़कती हैं। इसकी वजह से मांसपेशियों में दिक्कत होती है और यही आँख फड़कने का कारण बन जाती है।

जानें : अपनी जिंदगी को कैसे सेहतमंद बनाएं।

निष्कर्ष :  Aankh ka fadakna

दोस्तों इस लेख में हमने जाना कि आँख फड़कने कि क्या है ज्योतिष  और वैज्ञानिक वजह । मुझे आशा है कि आपको यह जानकारी काफी पसंद आयी होगी। इसी तरह कि जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे और इस लेख अपने दोस्तों में शेयर करे ताकि वो इस जानकारी को समझ सकें और दुनिया कि अफवाहों से बचें। धन्यवाद!

जानें : घर बैठे पैसा कैसे कमाएं।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − three =