शेर के बाड़े में कूदा नशे में धुत युवक

दिल्ली के चिड़ियाघर में गुरुवार को शेर के बाड़े में एक व्यक्ति कूद गया। उस व्यक्ति को बाड़े के अंदर कूदता देख वहाँ उपस्थित लोगो ने उसको बहुत रोकने की कोशिश की मगर उसने किसी की एक न सुनी और शेर के बाड़े में कूद गया। लेकिन ईश्वर की कृपा से उस व्यक्ति को शेर ने कुछ नहीं किया। हिंदी में एक कहावत कहि गई है।” जाको रखे सईया मर सके न कोई ” ये कहावत आज सत्य होती देखि गई है। क्योकि जब वह व्यक्ति शेर के बाड़े में कूदा तो वह कूदते ही उस शेर के पास जाकर बैठ गया।

इस दौरान लोगों के शोर मचाने पर आनन-फानन में सुरक्षा कर्मी बाड़े में कूदे और उस युवक की जान बचाई। उसे बचाने के लिए बाड़े में चिड़ियाघर के दो अधिकारी भी बाड़े में कूदे थे। पुलिस का कहना है की वह व्यक्ति मानसिक रूप से कमजोर है। चिड़ियाघर के पास उपस्थित लोगो के मुताबिक, चिड़ियाघर के अंदर एक तरफ लोहे की ग्रिल थी और दूसरी तरफ बांस की लकड़ी का बाड़ा बनाया हुआ है। रेहान बांस की लकड़ी के बाड़े पर चढ़ गया और फिर अंदर घुस गया।

माउन्ट एवरेस्ट की ऊंचाई दोबारा मापी जाएगी

बता दें कि हादसा दोपहर करीब 12:30 बजे हुआ। पुलिस ने बताया है कि बिहार के चंपारण जिले का निवासी रेहान ख़ान जब शेर के बाड़े में कूदा तब वह नशे की हालत में था। चिड़ियाघर के कर्मचारियों ने उसे पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया। मिली जानकारी के मुताबिक शख्स को कोई चोट नहीं लगी है और उससे निज़ामुद्दीन थाने में पूछताछ की जा रही है। पुलिस का कहना है कि शख्स की मानसिक हालत ठीक नहीं है।